Headline • पुलिस के सामने मोबाइल चोर के आरोपी को भीड़ ने पीटा, मामला उछलने पर दिया कार्रवाई का भरोसा• वाह री मेरठ पुलिस! एफआईआर से आरोपी का नाम हटाकर ऐसे व्यक्ति का नाम जोड़ दिया जो इस दुनिया में नहीं है• हरिद्वार की अंडर-16 क्रिकेट टीम के चयन का मामला पहुंचा नैनीताल हाईकोर्ट  • संभल में एसिड अटैक की घटना निकली झूठी, ससुरालियों को फंसाने के लिए भाई से ही डलवा ली थी एसिड की कुछ छींटे • BJP नेता कुसुम राय पर आरोप, पुलिस पर दबाव डालकर गिरवाई पड़ोसी के घर की दीवार, पीड़ित की सुनवाई नहीं• योगी सरकार ने गन्ना किसानों को दी बड़ी सौगात• पुलिस ने 80 साल के बुजुर्ग को बनाया बलात्कारी, जेल में हुई मौत,परिजन मांग रहे न्याय• आज से शुरू होगा कसौटी जिंदगी की, प्रोमो में दिखी थी कोमोलिका की झलक• कन्नौज के डबल मर्डर के आरोपी ममेरे भाइयों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 21 सितंबर को हुई थी हत्या• प्रेमिका की जिद पर बीवी को दिया फोन पर तलाक, फिर थाने में कर लिया प्रेमिका से निकाह• हमीरपुरः कंस मेले के रूट को लेकर बवाल, आयोजकों की जिद के आगे झुका प्रशासन• सफाईनायक से बीजेपी विधायक बोले, सुधर जाओ नहीं तो 1 घंटे में मुकदमा दर्ज कर सीधा जेल भिजवा दूंगा• बीएचयू में देर रात हुए बवाल के बाद हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर,स्वास्थ्य सेवा चरमराई• सपना चौधरी को बर्थड़े पर मिला ये सरप्राइज, सेलिब्रेशन के वीडियो हो रहे वायरल• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, दागी नेताओं के खिलाफ कानून बनाए सरकार • संभल: बाइक लूटकर भाग रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़,एक बदमाश को लगी गोली,दो पुलिसकर्मी भी घायल• ग्रेटर नोएडा :एलएलबी के छात्र को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में भर्ती• राहुल गांधी के अमेठी दौरे का आज दूसरा दिन, कार्यकर्ताओं से करेंगे मुलाकात• 2 घंटे तक आगरा में रहेंगे सीएम योगी आदित्यनाथ,ये है पूरा कार्यक्रम• इलाहाबाद : एनसीसी कैंप में खाना खाने से 30 से ज्यादा छात्र बीमार, अस्पताल में भर्ती• मेरठ : अलग-अलग मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी समेत तीन बदमाश घायल• बीएचयू में देर रात आगजनी और तोड़फोड़,भारी पुलिस बल तैनात• राफेल पर राहुल का पीएम मोदी पर वार, कहा- 'चौकीदार ने अनिल अंबानी से चोरी करवाई'• मैनपुरी : चाचा ने नाबालिग भतीजी के साथ किया दुष्कर्म• कच्ची शराब का विरोध करना पड़ा भारी,दबंगों ने तोड़ दिया महिला का पैर


नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर एक लड़की को बुरी तरह पीट रहे लड़के का वीडियो वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस हरकत में आई।

दरअसल, वीडियो वायरल होने के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मामले पर संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात की। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ’एक लड़की को एक युवक द्वारा बेरहमी से पीटे जाने का एक वीडियो मेरे संज्ञान में आया है।

मैंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से फोन पर इस बारे में बात की है और इस पर उचित कारवाई करने के लिए कहा है। जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने तुरंत घटना का संज्ञान लेते हुए रोहित तोमर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से उसे एक दिन की रिमांड पर भेज दिया गया। अपनी एक्स गर्ल फ्रेंड  को डराने के लिए रोहित तोमर ने एक लड़की को बुरी तरह पीटने का वीडियो बनाया।

वीडियो में उसे लड़की को बुरी तरह पीटते देखा जा सकता है। बताया जाता है कि एक्स गर्ल फ्रेंड पर शादी के लिए डराने के उद्देश्य से उसने वीडियो बनाया था। 

 

मेरठः लोगों को कानून व्यवस्था और महिलाओं के सम्मान का पाठ पढ़ाने वाली पुलिस को उसी के महकमे एक दरोगा के बेटे ने शर्मसार कर दिया है। 

दरअसल मेरठ मेडिकल थाना में एक छात्रा ने शिकायत दर्ज कराई है, जिसमे उसने कहा कि फेसबुक पर किसी शख्स की आईडी से उसे लगातार अश्लील पोस्ट और मैसेजेस आ रहे हैं।

पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए साइबर क्राइम की टीम को जांच सौंपी। जांच के बाद जो सामने आया वो हैरान कर देने वाला था।

लड़कियों को अश्लील मैसेजेस भेजने वाला आरोपी यूपी पुलिस में तैनात एक दरोगा का बेटा निकला। आरोपी का नाम सौरव प्रताप चौधरी है ।

सौरव कंकरखेड़ा थाना इलाके में रहता है, उसके पिता यूपी पुलिस में सब इंस्पेक्टर है और अलीगढ़ में तैनात हैं। फिलहाल पुलिस ने उसे गिरफ्तार आज मेरठ कोर्ट में पेश किया। 

 

नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में शुक्रवार को दर्दनाक हादसा हुआ है। यहां एक मिनी बस अनियंत्रित होकर चेनाब नदी में जा गिरी। इस हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई है और 13 लोग घायल बताए जा रहे हैं। पुलिस की टीम मौके पर है और राहत-बचाव का कार्य जारी है। 

-मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बस चलाते समय ड्राइवर का नियंत्रण हट गया। 

-जिससे वह पलटते हुए चेनाब नदी में जा गिरी। 

-खबरों के मुताबिक, अब तक 11 शवों को बरामद कर लिया गया है। वहीं लापता लोगों की तलाश की जा रही है। 

-बताया जा रहा है कि जिस समय यह हादसा उस समय बस में 25 लोग सवार थे।  

 

हरिद्वारः जातिगत आरक्षण का सवर्णों द्वारा लगातार किए जा रहे विरोध को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र गिरी के बयान से बल मिला है। महंत नरेंद्र गिरि ने हरिद्वार के दक्षिणकाली पीठ मंदिर पर पहुंचकर पत्रकार वार्ता करते हुए जाति के आधार पर नौकरियों में आरक्षण देने को गलत ठहराया।

उन्होंने कहा कि जाति के आधार पर आरक्षण दिए जाने से लोगों में टकराव होता है। आरक्षण केवल आर्थिक आधार पर दिया जाना चाहिए चाहे वह किसी भी जाति का गरीब हो। उन्होंने कहा कि देश से जातियों को समाप्त कर सभी को सिर्फ हिंदू बनना चाहिए। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने और भी कई विषयों पर चर्चा की।

हाल ही में सुप्रीम कोर्ट द्वारा हटाई गई धारा 377 पर नरेंद्र गिरी ने कहा की सुप्रीम कोर्ट के आदेश का विरोध नहीं किया जा सकता लेकिन समलैंगिकता एक विकृति है और भारत की संस्कृति में इस विकृति के लिए कोई स्थान नहीं है। धारा 377 हटना नहीं चाहिए इससे संस्कृति का ह््रास होगा। 

इतना ही नहीं नरेंद्र गिरी ने धर्म परिवर्तन को चिंता का विषय बताते हुए कहा कि कई ईसाई संस्थाओं द्वारा हिंदुओं को लालच देकर धर्म परिवर्तन करवाया जा रहा है जिससे हिंदू धर्म पर खतरा मंडरा रहा है।

जल्दी ही इलाहाबाद में अखाड़ा परिषद की बैठक में प्रस्ताव लाया जाएगा और सरकार से ऐसी संस्थाओं पर कार्रवाई करने के लिए कानून बनाने की मांग की जाएगी जो लालच देकर धर्म परिवर्तन करवा रही है।

 

सहारनपुरः भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण ने जेल से रिहा होने के बाद बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। रिहा होकर अपने गांव छुटमलपुर पहुंचे रावण ने मीडिया से बातचीत करते हुए अपनी इस गिरफ्तारी और रिहाई को भाजपा की साजिश करार दिया।

उन्होंने कहा कि मुझे साजिश के तहत जेल भेजा गया था जबकि मेरा मकसद उन दिनों सहारनपुर को जातीय हिंसा से बचाना था। उन्होंने कहा कि हमने भाजपा को कैराना चुनाव में आईना दिखा दिया। भीम आर्मी चीफ ने अपने संगठन का मकसद समता और समानता बताया।

कहा कि आने वाले चुनाव में भाजपा को हराने वाले महा गठबंधन को साथ देंगे। भीम आर्मी चीफ ने आशंका भी व्यक्त की कि भाजपा फिर से उन्हें जेल भेज सकती है। उन्होंने कहा कि वे बीजेपी के छलावे में आने वाले नहीं है।

बता दें कि भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर को नाटकीय घटनाक्रम के बाद जेल प्रशासन ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच देर रात पौने तीन बजे जेल से रिहा कर दिया था। इससे पहले कल देर शाम यूपी शासन रावण की रिहाई के आदेश जारी किए थे।

पहले प्रशासनिक अधिकारी रावण की रिहाई को लेकर असमंजस की स्थिति में था लेकिन सहारनपुर ज़िला जेल पर भीम आर्मी के हज़ारों कार्यकर्ता इकट्ठा हो गए जिसके बाद बैकफुट पर आए प्रशासन को देर रात ही रावण को रिहा करना पड़ा। जेल से बाहर आते ही रावण ने सीधे यूपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि अभी तो लड़ाई शुरु हुई है अब इस सरकार से सीधे लड़ाई लड़ी जाएगी।

आपको बता दें कि सहारनपुर में पिछले वर्ष सिलसिलेवार जातीय संघर्षों में चार लोगों की मौत हो गई थी। शब्बीरपुर हिंसा के बाद भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण को अरेस्ट कर उसके खिलाफ रासुका की कार्रवाई की गई थी।

पिछले 15 महीनों से सहारनपुर जेल में रावण सज़ा काट रहा था। कुछ दिन पहले ही रावण की मां ने प्रदेश सरकार से उसकी रिहाई की गुहार लगाई थी जिसके बाद कल ही प्रदेश सरकार ने रावण की रिहाई के आदेश जारी किए थे।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: