Headline • लंदन मे पाकिस्‍तानी मंत्री पर जमकर बरसे लात घूंसे, भारत को दी थी परमाणु युद्ध की धमकी !• कांग्रेस के दो बड़े नेता जयराम रमेश के बाद अब अभिषेक मनु सिंघवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खलनायक के तौर पर पेश करने को लेकर जताई आपत्ति ! • जी-7 समिट में पीएम मोदी और ट्रंप करेंगे कश्‍मीर पर चर्चा, 370 भारत का अंधरूनि मामला : US• पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम अंडरग्राउंड, तलाश में ईडी और सीबीआई अधिकारी !• मौसम विभाग ने दी चेतावनी महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल समेत कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी !• धारा 370 हटने के बाद बारामूला में हुई पहली मुठभेड़, एक SPO अधिकारी शहीद !• अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर कही कश्मीर पर मध्यस्थता की बात !• चंद्रमा की कक्षा में स्थापित हुआ चंद्रयान-2, इसरो की प्रेस कांफ्रेस आज !• SBI खत्‍म करेगा डेबिट कार्ड, योनो से हि निकलेगा कैश और होगी डिजिटल पेमेंट !• जाकिर नाइक पर कसा शिकंजा, अब भाषण देने पर मलेशिया ने लगाई रोक !• अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ट्विट: कश्‍मीर में एक कठिन स्‍थिति, लेकिन अच्‍छी बातचीत !• पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली की हालत बेहद नाजुक, AIIMS में भर्ती !• केन्‍द्रीय मंत्री जितेन्‍द्र सिंह का पाक अधिकृत कश्‍मीर पर बयाना, अब POK के देश में शामिल होने की करें दुआ !• रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान से फिर बौखलाया पाक, महमूद कुरैशी का आया यह बयान !• कश्‍मीर में हो रहा मानवअधिकारों का उल्‍लंघन : ममता बनर्जी • 'मेक इन इंडिया': इसरो का निजी कंपनियों को पांच पीएसएलवी बनाने का न्योता !• अमेरिका के उप विदेश सचिव भारत दौरे पर, रणनीतिक मुद्दों पर चर्चा !• आर्टिकल 370: J&K में प्रतिबंध कें बाद टूजी इंटरनेट सेवाएं चरणबद्ध तरीके से धीरे धीरे हो रही बहाल !• UNSC में J&K पर चीन और पाक की हर चाल को भारत ने किया खारिज !• भाजपा को कश्मीरियों से नहीं, वहा की जमीन से है प्यार : ओवैसी• अमेरिका कर रहा एशिया-प्रशांत क्षेत्र में मिसाइल तैनाती की तैयारी, चीन की चेतावनी !• विंग कमांडर अभिनंदन को मिलेगा वीर चक्र !• चीन ने कश्‍मीर मुद्दे के समाधान के लिए UN मध्‍यस्‍थता की बात कही !• अमेरिका में बोले भारतीय राजदूत, आर्टिकल-370 खत्‍म करना भारत का आंतरिक मामला !• डिस्कवरी चैनल के प्रसिद्ध प्रोग्राम 'मैन वसेर्ज वाइल्ड' में बेयर ग्रिल्स के साथ दिखें पीएम नरेंद्र मोदी !

पीएम मोदी ने दी डेडलाइन, 48 घंटे में सांसद दें संपत्ति का सही ब्योरा

नई दिल्ली- बीजेपी सांसदों को  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कड़ी फटकार लगाते हुए अपन संपत्ति का ब्योरा देने के लिए 48 घंटे का समय दिया है, और कहा है कि जल्द से जल्द अपनी संपत्ति और देनदारियों का लेखा जोखा संसद की वेबसाइट पर सार्वजनिक करें। सूत्रों के मुताबिक पीएम ने यह कदम संसद में काले धने के मुद्दे पर सरकार की हुई फजीहत के बाद उठाया है।

शीतकालीन सत्र के दो दिनों में विपक्ष ने काले धन को वापस लाने की बात पर क्रेंद सरकार की खूब खिंचाई की थी। विपक्ष ने तो यह तक कह दिया था कि सरकार की मंशा ही नहीं काला धन लाने की वरना मोदी सरकार को आए हुए छह महीने हो चुके हैं, लेकिन अब तक काले धन का कुछ अता- पता नहीं है। वहीं कांग्रेस ने आज इस मुद्दे पर चर्चा के लिए कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया था, लेकिन लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने इसे नियमों के विरुद्ध बताते हुए खारिज कर दिया। लोकसभा की कार्यसूची में काले धन के मुद्दे पर नियम 193 के तहत आज चर्चा होगी।

लोकसभा सदस्य संपत्ति ब्योरा नियम 2004 के मुताबिक शपथ लेने के 90 दिनों के अंदर लोकसभा सदस्य को अपनी संपत्ति का ब्योरा जमा कराना होता है। आरटीआई से मिली जानकारी से यह तथ्य सामने आया था कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी समेत लोकसभा के 401 सांसदों ने अपनी संपत्तियों और देनदारियों का ब्योरा नहीं दिया था। इस लिस्ट में बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का नाम भी शामिल थे।

बताया जा रहा है कि कांग्रेस, बीजेपी, टीएमसी, टीडीपी, एआईएडीएमके, एलजेपी, एनसीपी, सीपीआईएम, एसपी, वाईएसआर कांग्रेस, अकाली दल, आरजेडी, जेडीयू के सांसदों ने अब तक अपनी संपत्ति का ब्योरा नहीं दिया है।

 सार्क सम्मेलन में मोदी 26/11 का मुद्दा उठाएंगे!

नई दिल्ली- सार्क में आज से 18वें सार्क सम्मेलन का शुंभारंभ होने वाला है। खबरों के मुताबिक आज सार्क सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 26/11 को हुए आतंकी हमले का मुद्दा उठा सकते हैं। क्योंकि आज 26/11 के आतंकी हमले की छठी बरसी है। ऐसे में पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ और पीएम मोदी के बीच बातचीत नहीं होने के सकेंत मिल रहे हैं। इसके साथ ही मोदी सार्क सम्मेलन में अपने भाषण के दौरान आतंकवाद के मुद्दे पर बात कर पाकिस्तान के लिए मश्किलें खड़ी कर सकते हैं। ‘टाइम्स नाउ’ के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवाज शरीफ की मौजूदगी में ही 26/11 को मुंबई में हुए आतंकी हमले का मुद्दा उठाएंगे।

बता दें कि मुंबई में की अलग- अलग जगहों पर 26 नवंबर 2008 को पाकिस्तान से आए कुछ आतंकियों ने बम धमाके किए थे, जिसमे 25 विदेशियों समेत 166 लोगों की गई थी। और इस हमले में 304 लोग भी घायल हुए थे।

काले धन पर संसद में हंगामा

संसद के शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन। लोकसभा में विपक्ष अंदर और बाहर प्रदर्शन कर रहा है। विपक्ष ने काले धन के मामले को लेकर सरकार को मंशा पर उठाए सवाल। बता दें कि कल दोनों सदनों को पूर्व पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा के निधन के बाद स्थगित कर दिया था। आज सदन के शुरूआत में ही विपक्ष ने काले धने के मुद्दे को लेकर हंगामा करना शुरू कर दिया है।

सीबीआई ने मनमोहन सिंह से क्यों नहीं की पूछताछ- कोर्ट

नई दिल्ली- दिल्ली की एक अदालत ने कोल ब्लाॅक आवंटन मामले में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन से पूछताछ नहीं करने को लेकर कई सवाल खड़े किए हैं। कोर्ट का कहना है कि उस समय मनमोहन सिंह के पास कोयला मंत्रालय था। इस आधार पर उनसे पूछताछ करना जरूरी था। बता दें कि कोयला मामले में उद्योगपति केएम बिरला, पूर्व कोयला सचिव पीसी पारिख सहित कई लोगों के नाम शामिल हैं। बताया जा रहा है 2005 में जब बिड़ला की कंपनी हिंडालकों को कोल ब्लाॅक आवंटित किए गए थे उस मनमोहन  सिंह के पास कोयला मंत्रालय था।

 

 पड़ोसी देशों के साथ रिश्तों को देंगे प्राथमिकता- पीएम

26 नवंबर को होने वाले सार्क शिखर सम्मेलन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नेपाल के लिए रवाना हो गए हैं। मोदी ने सार्क सम्मेलन में जाने से पहले भारत और पाकिस्तान के रिश्तों को बेहतर बनाने की बात को प्राथमिकता दी और कहा कि पाकिस्तान के साथ अच्छे संबंध बनाने की कोशिश, जुड़ाव और मजबूत साझेदारी के साथ ऊर्जा और आधारभूत ढांचे के विकास के मुद्दे को आगे बढ़ाएगा।

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी 18वें शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए नेपाल गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि शंाति और समरसता के लिए गहरे क्षेत्रीय संबंध महत्वपूर्ण है। दक्षिण एशिया के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए भारत पड़ोसियों के साथ बेहतर संबंधों का पैरोकार रहा है। पीएम ने उम्मीद जताई कि सम्मेलन एक मजबूत निष्कर्ष की ओर आगे बढ़ेगा।

:
:
: