Headline • लंदन मे पाकिस्‍तानी मंत्री पर जमकर बरसे लात घूंसे, भारत को दी थी परमाणु युद्ध की धमकी !• कांग्रेस के दो बड़े नेता जयराम रमेश के बाद अब अभिषेक मनु सिंघवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खलनायक के तौर पर पेश करने को लेकर जताई आपत्ति ! • जी-7 समिट में पीएम मोदी और ट्रंप करेंगे कश्‍मीर पर चर्चा, 370 भारत का अंधरूनि मामला : US• पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम अंडरग्राउंड, तलाश में ईडी और सीबीआई अधिकारी !• मौसम विभाग ने दी चेतावनी महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल समेत कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी !• धारा 370 हटने के बाद बारामूला में हुई पहली मुठभेड़, एक SPO अधिकारी शहीद !• अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर कही कश्मीर पर मध्यस्थता की बात !• चंद्रमा की कक्षा में स्थापित हुआ चंद्रयान-2, इसरो की प्रेस कांफ्रेस आज !• SBI खत्‍म करेगा डेबिट कार्ड, योनो से हि निकलेगा कैश और होगी डिजिटल पेमेंट !• जाकिर नाइक पर कसा शिकंजा, अब भाषण देने पर मलेशिया ने लगाई रोक !• अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ट्विट: कश्‍मीर में एक कठिन स्‍थिति, लेकिन अच्‍छी बातचीत !• पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली की हालत बेहद नाजुक, AIIMS में भर्ती !• केन्‍द्रीय मंत्री जितेन्‍द्र सिंह का पाक अधिकृत कश्‍मीर पर बयाना, अब POK के देश में शामिल होने की करें दुआ !• रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान से फिर बौखलाया पाक, महमूद कुरैशी का आया यह बयान !• कश्‍मीर में हो रहा मानवअधिकारों का उल्‍लंघन : ममता बनर्जी • 'मेक इन इंडिया': इसरो का निजी कंपनियों को पांच पीएसएलवी बनाने का न्योता !• अमेरिका के उप विदेश सचिव भारत दौरे पर, रणनीतिक मुद्दों पर चर्चा !• आर्टिकल 370: J&K में प्रतिबंध कें बाद टूजी इंटरनेट सेवाएं चरणबद्ध तरीके से धीरे धीरे हो रही बहाल !• UNSC में J&K पर चीन और पाक की हर चाल को भारत ने किया खारिज !• भाजपा को कश्मीरियों से नहीं, वहा की जमीन से है प्यार : ओवैसी• अमेरिका कर रहा एशिया-प्रशांत क्षेत्र में मिसाइल तैनाती की तैयारी, चीन की चेतावनी !• विंग कमांडर अभिनंदन को मिलेगा वीर चक्र !• चीन ने कश्‍मीर मुद्दे के समाधान के लिए UN मध्‍यस्‍थता की बात कही !• अमेरिका में बोले भारतीय राजदूत, आर्टिकल-370 खत्‍म करना भारत का आंतरिक मामला !• डिस्कवरी चैनल के प्रसिद्ध प्रोग्राम 'मैन वसेर्ज वाइल्ड' में बेयर ग्रिल्स के साथ दिखें पीएम नरेंद्र मोदी !

केजरीवाल सरकार की पहली कैबिनेट बैठक आज, कई अहम मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

दिल्ली में केजरीवाल सरकार की आज पहली कैबिनेट बैठक होने वाली है। पहले कैबिनेट की बैठक 14 फरवरी को शपथ ग्रहण समारोह के बाद होने वाली थी, लेकिन सीएम अरविंद केजरीवाल की तबीयत खराब होने के कारण उसी दिन कैबिनेट की बैठक टाल दी गई थी। माना जा रहा है कि, केजरीवाल की पहली कैबिनेट बैठक में दिल्ली के अहम मुद्दों पर चर्चा होगी। बता दें कि, ‘आप’ पार्टी ने चुनाव से पहले दिल्ली की जनता से 70 वादे किए थे, अब जनता को उम्मीद है कि केजरीवाल सरकार उन सभी वादों को जल्द से जल्द अमलीजामा पहनाने की कोशिश करेगी।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में शपथ ग्रहण के बाद जनता को संबोधित करते हुए भी यह कहा है कि सभी चुनावी वादे पूरे किए जाएंगे, लेकिन इसके लिए कोई समय सीमा निर्धारित नहीं की जानी चाहिए। दिल्ली में इस समय प्रति माह 200 यूनिट तक बिजली खपत करने वाले उपभोक्ताओं को 30 फीसदी और 201 से 400 यूनिट तक बिजली का उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं को बिल में लगभग 15 फीसदी छूट दी जा रही है।

उम्मीद है कि , ‘आप’ अपनी पहली कैबिनेट बैठक में उन पांच अहम वादों पर चर्चा कर सकती है-

-मुफ्त पानी और आधे दाम पर बिजली
-दिल्ली में फ्री वाई- फाई की सुविधा
-500 नए स्कूल और 20 कॉलेज
-10-15 लाख सीसीटीवी कैमरे
-महिलाओं के लिए एक लाख टॉयलेट

एक मंच पर आए नरेंद्र मोदी और शरद पवार

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की कड़वाहट को पीछे छोड़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को राकांपा नेता शरद पवार के साथ यहां मंच साझा किया। उनके साथ दोपहर का भोजन किया। मोदी ने ऐसा कर राज्य में एक नए संभावित राजनीतिक समीकरण की अटकलों को हवा दी। हालांकि दोनों नेताओं ने इस बात पर जोर दिया कि उनके सार्वजनिक तौर पर एक साथ आने के कोई राजनीतिक अर्थ न निकाले जाएं। लेकिन भाजपा के अपने सहयोगी शिवसेना के साथ संबंधों में आए तनाव के बाद इस मुलाकात को अधिक राजनीतिक महत्त्व दिया जा रहा है। मोदी ने पिछले साल अक्तूबर में हुए विधानसभा चुनाव में राकांपा को स्वाभाविक रूप से भ्रष्ट पार्टी बताते हुए लोगों से पवार परिवार के जूए के भार से मुक्त होने की अपील की थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शरद पवार के गृह क्षेत्र में संचालित विभिन्न प्रतिष्ठानों से संबंधित कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। मोदी ने पवार परिवार की ओर से संचालित विद्या प्रतिष्ठान का दौरा कर अप्पासाहेब पवार प्रेक्षागृह का उद्घाटन किया। इसका नाम शरद पवार के भाई के नाम पर रखा गया है।

अप्पासाहेब चीनी सहकारी आंदोलन के एक प्रभावशाली नेता रहे हैं। राकांपा नेता को उनकी अधिकतर राजनीतिक ताकत उन्हीं से मिलती है।

मोदी ने केंद्र सरकार के उपक्रम कृषि विज्ञान केंद्र में आयोजित किसानों के सम्मेलन में पवार की प्रशंसा की। मोदी ने वहां सब्जियों के लिए एक उत्कृष्टता केंद्र का उद्घाटन किया। मोदी ने पवार की इस बात के लिए प्रशंसा की कि उन्होंने उन्हें बारामती आमंत्रित किया। मोदी ने कहा,‘गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मैंने कई समस्याओं का सामना किया जिसमें भारत सरकार से दिक्कतें शामिल थीं। मैं तब शरद राव को फोन किया करता था। वह पार्टी राजनीति से ऊपर उठकर मेरी मदद करते थे। ऐसा कोई महीना नहीं बीतता जब हमारी दो-तीन बार बात नहीं होती। इनके इस योगदान के लिए मैं यहां इनका बारामती में अभिनंदन करता हूं।’

कार्यक्रम में बड़ी संख्या में मीडियाकर्मियों की मौजूदगी से अवगत मोदी ने कहा, ‘आज मीडिया के लिए विशेष दिन है। वे बारीकी से विश्लेषण करेंगे कि मैंने पहले (चुनाव के दौरान) क्या कहा था और मैं आज क्या कहता हूं। यही लोकतंत्र की सुंदरता है।’ उन्होंने कहा,‘लोकतंत्र दो पटरियों पर काम करता है। इसमें पहले विवाद और दूसरा संवाद। हम अलग अलग एजंडा वाले अलग-अलग राजनीतिक दल हैं। लेकिन हमारे लिए देश पार्टी से ऊपर और शासनकला राजनीति से ऊपर है।’ मोदी ने कहा,‘लेकिन हमारे देश में दो नेताओं की मुलाकात बड़ी खबर बन जाती है। संवाद कभी रुकना नहीं चाहिए और इस मामले में सत्ता में रहने वालों की अधिक जिम्मेदारी है।’

पवार ने भी यह स्पष्ट करने का प्रयास किया कि उनकी एकसाथ मौजूदगी विकास के लिए है। इसके राजनीतिक मतलब नहीं निकाले जाने चाहिए। उन्होंने कहा,‘राजनीति में हम दो दिनों तक लड़ सकते हैं लेकिन बाकी के 363 दिन हमें विकास के लिए समर्पित करने चाहिए। हम आपको आपकी सभी विकास पहलों में समर्थन करने को तैयार हैं।’ पवार ने मोदी को उनके विकास के एजंडा में समर्थन देते हुए उनसे चीनी के निर्यात में बाधाओं को दूर करने और डेयरी किसानों की स्थिति सुधारने में हस्तक्षेप करने की मांग की। पवार ने इसके साथ ही धनगढ़ समुदाय को अनुसूचित जाति की तर्ज पर आरक्षण देने की मांग की। मोदी ने बारामती में चुनाव प्रचार के दौरान इस समुदाय के लिए आरक्षण दिलाने में असफल रहने को लेकर पवार को आड़े हाथ लिया था।

दोनों नेताओं ने हालांकि इस बात की सावधानी बरती कि वे ऐसा कुछ न बोलें जिससे यह प्रदर्शित हो कि वे राजनीतिक रूप से नजदीक आ रहे हैं। लेकिन दोनों के बीच राजनीतिक निकटता बढ़ने की चर्चा है, विशेष रूप से दिल्ली चुनाव में हार के बाद मोदी पर शिवसेना के सार्वजनिक हमले के बाद। शिवसेना मांग कर रही है कि मोदी दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी स्वीकार करें। शिवसेना ने इसके साथ ही सूखा प्रभावित विदर्भ और मराठवाडा में किसानों की समस्याओं और किसानों की आत्महत्याओं को लेकर भाजपा नीत सरकार पर सार्वजनिक हमले किए हैं। राकांपा ने विधानसभा चुनाव के बाद राज्य की अल्पमत भाजपा सरकार को एकतरफा समर्थन की घोषणा की थी।

5 साल में दिल्ली होगी करप्शन फ्री- केजरीवाल

 शनिवार को दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाले आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की।


शपथग्रहण के बाद केजरीवाल ने कहा कि आज एक साल बाद फिर आम आदमी पार्टी की दिल्ली में सरकार बनी है। फर्क सिर्फ इतना है कि इस बार पूरी बहुमत के साथ हमारी सरकार वापस आई है। उन्होंने कहा कि मुझे ये तो पता था कि दिल्लीवालों मुझे प्यार करते हैं, लेकिन इतना ज्यादा प्यार करते हैं इसका अंदाजा तो मुझे भी नहीं था।


केजरीवाल ने आगे कहा कि जिस दिन नतीजे आ रहे हैं उस दिन ऐसा लग रहा था जैसे सीटों की बारिश हो रही है। 70 सीटोंवाली दिल्ली में 67 सीटें आपने हमारी झोली में डाल दी। ये कुदरत का करिश्मा ही है। और हमारी कोशिश होगी कि हम आपके सपनों को पूरा करें। 5 साल में दिल्ली को भ्रष्टाचार मुक्त कर दूंगा।

केजरीवाल ने रामलीला मैदान में शपथ-ग्रहण के बाद कहा कि मुझे भरोसा है कि भारतीय टीम विश्व कप जरूर जीतेगी। मैं उसके हर सदस्य को शुभकामनाएं देता हूं।

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली

दिल्ली के रामलीला मैदान में विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने वाली आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की । उपराज्यपाल नजीब जंग ने केजरीवाल को सीएम पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई, जो उन्होंने हिन्दी में ली।

अरविंद के साथ उनके सबसे करीबी सहयोगी मनीष सिसोदिया ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। उनके अतिरिक्त असीम अहमद खान, संदीप कुमार, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय तथा जितेंद्र सिंह तोमर ने मंत्रियों के रूप में पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण की।

आपको बता दें कि, अरविंद केजरीवाल की सरकार में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया शहरी विकास, पीडब्ल्यूडी तथा शिक्षा मंत्रालय भी संभालेंगे।


जितेंद्र सिंह तोमर को गृह तथा कानून मंत्रालयों की जिम्मेदारी दी गई है।


गोपाल राय परिवहन तथा श्रम मंत्री बनाया गया।


संदीप कुमार के जिम्मे महिला व बाल कल्याण एवं अनुसूचित जाति तथा जनजाति विभाग दिया गया।


सतेंद्र जैन को स्वास्थ्य मंत्रालय की बागडोर दी गई है।


वहीं असीम अहमद खान को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग का जिम्मा दिया गया।

गौरतलब है कि, पिछले साल 49 दिन की सरकार चलाने वाले केजरीवाल ने 14 फरवरी 2014 को सीएम पद से इस्तीफा दे दिया था। और आज ठीक एक साल बाद केजरीवाल फिर से दिल्ली के सीएम बन गए हैं।

राहुल गांधी को अप्रैल में मिल सकती है कांग्रेस की कमान!

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की बैठक इस साल अप्रैल में हो सकती है। अटकलें लगाई जा रही हैं कि इस बैठक में राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है । पिछले साल हुए लोकसभा चुनावों और इस साल हुए दिल्ली चुनावों में बुरी तरह हार के बाद कांग्रेस की टॉप लीडरशिप पर सवाल उठने लगे हैं। ये सवाल सिर्फ राजनीतिक विश्लेषकों की ओर से नहीं बल्कि पार्टी के भीतर से भी उठ रहे हैं और हर बार की तरह पार्टी के युवा चेहरों राहुल-प्रियंका को बड़ी जिम्मेदारी देने की मांग की जा रही है।

हालांकि, पार्टी सूत्रों का कहना है कि एआईसीसी की इस बैठक की तिथि, स्थान और अजेंडे को अंतिम रुप नहीं दिया गया है। लेकिन, सूत्रों के मुताबिक एआईसीसी की बैठक संसद के बजट सत्र के बीच में होने वाले अवकाश के दौरान होगी। इसी में राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

पार्टी के सदस्यता अभियान को इस माह के अंत तक बढ़ा दिया गया है। इसके बाद संगठनात्मक चुनाव प्रक्रिया तेज होगी और पार्टी अध्यक्ष के चुनाव के साथ समाप्त होगी।

सोनिया का कार्यकाल अब तक का सबसे लंबा

सोनिया गांधी ने 130 साल पुरानी कांग्रेस में अब तक का सबसे लंबा अध्यक्षीय रेकॉर्ड बनाया है। वे मार्च 1998 से अध्यक्ष हैं। राहुल गांधी को जयपुर चिंतन शिविर में पार्टी का उपाध्यक्ष बनाया गया था। सूत्रों के अनुसार, आगामी अधिवेशन में उन्हें अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

:
:
: