Headline • पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी गिरफ्तार • 90 बीघे जमीन के लिए चली अंधाधुंध गोलियां, बिछ गई लाशें• धौनी के माता-पिता भी चाहते है कि वो अब क्रिकेट से संन्यास ले• चंद्रयान-2 की आयी डेट; 22 जुलाई को होगा लॅान्च • कुलभूषण जाधव केस : 1 रुपये वाले साल्वे ने पाकिस्तान के 20 करोडं रुपये वाले वकील को दी मात • कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष , किसी भी नाम को लेकर सहमति नहीं• पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर

कोल आवंटन- सम्मन के खिलाफ कोर्ट में अपील करेंगे मनमोहनए कपिल सिब्बल लड़ेंगे केस।

कोयला घोटाले में सम्मन के खिलाफ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जल्द ही कोर्ट में अपील करेंगे। मनमोहन का केस कांग्रेस के वरिष्ठ सहयोगी और सुप्रीम कोर्ट के वकील कपिल सिब्बल लड़ेंगे। मनमोहन सिंह को कोल ब्लॉक केस में कोर्ट द्वारा बतौर आरोपी सम्मन जारी किए जाने पर उनके समर्थन में कांग्रेस ने एकजुटता दिखाते हुए मार्च निकाल चुकी है।

बता दें कि, मनमोहन के समर्थन में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मार्च का नेतृत्व किया था। जिसमें शीर्ष नेता शामिल हुए थे। सोनिया गांधी ने कहा कि मनमोहन सिंह की ईमानदारी पर कोई सवाल ही नहीं उठ सकता। वो दुनिया भर में बेहद सम्मानित व्यक्ति हैं। मामले में कांग्रेस कानूनी लड़ाई लड़ने जा रही है।

कांग्रेस से मिले समर्थन पर मनमोहन सिंह ने कहा कि हम इस मामले में पूरी ताकत के साथ कानूनी लड़ाई लड़ेंगे।

 

स्टिंग का डंक: आसिफ मोहम्मद के पास है आप संयोजक अरविंद केजरीवाल का एक और वीडियो

नई दिल्ली- आम आदमी पार्टी पर खुलासों के टेप का सिलसिला जारी है। आप के पूर्व नेता राजेश गर्ग ने बीते दिनों आप संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ एक ऑडियो टेप का खुलासा किया, वही खुद को आप का नेता बताने वाले शाहिद आजाद ने केजरीवाल पर मुस्लमान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए एक ऑडियो क्लिप जारी किया है। वहीं संजय सिंह का स्टिंग होने का दावा करने वाले आसिफ मोहम्मद अब तक आना कानी कर रहे हैं।


आम आदमी पार्टी पर मानों स्टिंग और खुफिया टेप की बारिश हो रही है। कांग्रेस नेता आसिफ मोहम्मद ने एक प्रेस कांफ्रेस कर आप नेता संजय सिंह के स्टिंग की बात कही लेकिन स्टिंग वीडियो जारी नहीं किया। उन्होंने यहां तक कहा कि बीती रात केजरीवाल पर जो ऑडियो जारी हुआ है वो उन्होंने ने ही किया है।


आसिफ ने आज मीडिया को बुलाया और अमूमन कल वाली बातें ही दोहराई जिसमें उन्होंने कहा था कि दिल्ली में सरकार बनाने की कोशिश को लेकर आप नेता संजय सिंह और एक बडे पत्रकार से उनकी मीटिंग हुई थी। आसिफ ने पेन ड्राइव दिखाते हुए दावा किया कि इसमें पूरा स्टिंग है लेकिन इसके साथ ही उन्होने कहा कि स्टिंग सामने आने पर मीडिया के संपादक की नौकरी भी जा सकती है। इसलिए उन्होने स्टिंग दिखाया तो नहीं लेकिन पेन ड्राइव में स्टिंग का ठोस दावा जरुर करते रहे।


केजरीवाल के जिस आडियो स्टिंग की बात आसिफ मोहम्मद कर रहे हैं उसे शाहिद आजाद ने जारी किया था। वो आम आदमी पार्टी की अल्पसंख्यक विंग के संयोजक हैं। इस आडियो में केजरीवाल मुसलमानों को ज्यादा टिकट नहीं देने की बात कर रहे हैं। ऐसा इसलिए कि इससे वोटों का धुर्वीकरण होने का डर था।

BJP की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हेमा, स्मृति और नजमा को नहीं मिली जगह

नई दिल्ली- अमित शाह के बीजेपी अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी का गठन किया गया है। जिसमें केंद्रीय मंत्री नजमा हेपतुल्ला, हेमा मालिनी और स्मृति ईरानी को बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया है। बेंगलुरु में होने वाली राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले यह नई कार्यकारिणी गठित की गई है। और कुछ समय पहले दूसरे दलों से बीजेपी में आए कुछ केंद्रीय और राज्य मंत्रियों, सुरेश प्रभु, बीरेंद्र सिंह, वी.के. सिंह और राव इंद्रजीत सिंह के अलावा डॉ. हर्षवर्धन और विजय कुमार मल्होत्रा को जगह दी गई है। बतौर पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती और मदनलाल खुराना को शामिल किया गया है। नई कार्यकारिणी की बैठक 3-4 अप्रैल को बेंगलुरु में होने की संभावना है।
हालांकि, यह अटकलें भी तेज हो गई हैं कि कार्यकारिणी से बाहर हुए बड़े चेहरों के लिए कोई नई भूमिका तैयार की जा सकती है।

पीएम मोदी का लंका दौरा: भारत-श्रीलंका मिलकर सुलझाएंगे मछुआरों का मुद्दा

कोलंबो- श्रीलंका की दो दिवसीय यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच चार महत्वपूर्ण समझौते करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलंबो की महाबोधी सोसायटी जाकर वहां पूजा-अर्चना की। पीएम यहां और बच्चों से भी मिले। मोदी ने यहां अपने संबोधन में कहा कि श्रीलंका महात्मा बुद्ध का देश है। बुद्ध सभी को जोड़ते हैं। हर देश में श्रीलंका के बौद्र भिक्षु हैं। उन्होंने कहा कि मैंने मुख्यमंत्री रहते हुए अंतरराष्ट्रीय बुद्ध सभा बुलाई थी।

इससे पहले द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए पीएम मोदी और श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना की मौजूदगी में भारत और श्रीलंका के बीच समुद्री सुरक्षा, वीजा, कस्टम और ऊर्जा को लेकर अहम समझौतों पर हस्ताक्षर हुए।
इसके बाद पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि भारत श्रीलंका की जरूरतों और चिंताओं को समझता है। लिहाजा, दोनों देश कारोबार और आर्थिक सहयोग को बढ़ाना चाहते हैं। पीएम ने कहा कि मुझे श्रीलंका दौरे का इंतजार था। वर्ष 1987 के बाद किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली यात्रा है। पीएम ने यहां घोषणा की कि भारत त्रिंकोमाली को पेट्रोलियम हब बनने में मदद करेगा। इसके अलावा दिल्ली से कोलंबो के बीच जल्द सीधी उड़ान शुरु करने, 14 अप्रैल से श्रीलंकाई नागरिकों को वीजा ऑन अराइवल की सुविधा देने, भारत में बुद्ध सर्किट ट्रेन चलने की घोषण भी की।
पीएम ने दोनों देशों के बीच मछुआरों के मुद्दे पर चिंता जताई भी जताई और कहा कि इससे कई लोगों की रोजी-रोटी जुड़ी हुई है। उन्होंने कहा कि फिशरमैन एसोसिएशन उनसे जल्द मिले। दोनों देश इस मसले को मानवीय आधार पर सुलझाएंगे। उन्होंने कहा कि दोनों देश समुद्री अर्थव्यवस्था पर ज्वाइंट फोर्स बनाएंगे।
उधर, श्रीलंका के राष्ट्रपति सिरीसेना ने भी दोनों देशों के बीच मजबूत, ऐतिहासिक और पारंपरिक रिश्ते होने की बात कही। साथ ही कहा कि हम भारत के साथ नजदीकी संबंधों के पक्ष में हैं। सिरीसेना ने घोषणा की कि भारत में बुद्ध सर्किट ट्रेन की तर्ज पर श्रीलंका में भी रामायण सर्किट ट्रेन चलाई जाएगी।
इससे पहले राजकीय सम्मान के तहत राष्ट्रपति सचिवालय में पीएम मोदी को गार्ड ऑफ ऑनर और तोपों की सलामी दी गई। इसके बाद राष्ट्रपति सचिवालय में भारत-श्रीलंका प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई। इसमें दोनों देशों के बीच कई द्विपक्षीय मसलों पर महत्वपूर्ण चर्चा और निर्णय हुए। उधर, श्रीलंका ने भी भारत के साथ रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए 86 भारतीय मछुआरों को रिहा कर दिया है।
पिछले 28 वषरें में श्रीलंका की यात्रा पर जा रहे पहले प्रधानमंत्री मोदी आज श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना से शिखर वार्ता करेंगे। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी श्रीलंका की संसद को भी संबोधित करेंगे।
जनवरी में राष्ट्रपति के तौर पर पदभार संभालने के बाद सिरीसेना अपनी पहली विदेश यात्रा के तहत पिछले महीने भारत आए थे। प्रधानमंत्री की श्रीलंका यात्रा द्विपक्षीय संबंधों के सभी पहलुओं को और मजबूत करने के मौके के तौर पर देखी जा रही है।

केरल विधानसभा में हंगामा: हाथापाई, तोड़फोड़ के बीच पेश हुआ बजट

तिरुवनंतपुरम- केरल विधानसभा में वित्त मंत्री के.एम. मणि के इस्तीफे की मांग को लेकर शुक्रवार को विपक्ष के भारी हंगामे के बीच बजट पेश हुआ। उनका आरोप है कि मणि ने राज्य में बंद बार खोलने के लिए एक करोड़ रुपये की रिश्वत ली है।
विपक्ष ने इसी हंगामे के बीच विधानसभा अध्यक्ष एन. शकतन की कुर्सी फेंकी, कम्प्यूटर भी तोड़ डाले और जमकर नारेबाजी की। इसी के चलते वित्तमंत्री केएम मणि ने सात मिनट के अंदर अपना बजट भाषण पढ़ डाला। एक विधायक बेहोश भी हो गया। विपक्षी एलडीएफ सदस्यों और वाच एंड वार्ड स्टाफों के बीच हाथा-पाई भी हुई। इसके अलावा सदन के बाहर भी जमकर पथराव और लाठीचार्ज हुआ। दरअसल, विपक्ष वित्तमंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप के चलते बजट पेश करने से रोक रहा था। सदन के बाहर और अंदर सुरक्षाकर्मी तैनात हैं।
इसी बीच वित्तमंत्री भी किसी भी कीमत पर अपना बजट पेश करना चाहते थे, तो उन्होने अपना जल्दी से बजट पढ़ डाला। इससे पहले वित्तमंत्री पर भ्रष्टाचार का आरोप के चलते विपक्ष ने उन्हें विधानसभा में न घुसने देने की धमकी दी थी, जिसके बाद वित्तमंत्री ने पूरी रात विधानसभा के एक कमरे में बिताई।
किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए भारी तादाद में पुलिस बल को तैनात किया गया था।
केरल विधानसभा के बाहर भी मणि के इस्तीफे की मांग को लेकर वामपंथी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की युवा शाखा के सदस्य प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका प्रदर्शन गुरुवार शाम से ही जारी है।

:
:
: