Headline • मेघालय, कोयला खदान से 35 दिनों के बाद 200 फीट की गहराई से निकला मजदूर का शव • भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को स्वाइन फ्लू, एम्स में चल रहा इलाज • रुपये में मजबूती शेयर बाजार 36 हजार के पार• World Bank के प्रमुख पद की दावेदार में इंद्रा नूई का नाम आगे • कर्नाटक में राजनीतिक उठा-पटक, कांग्रेस ने 18 को बुलाई विधायकों की बैठक• विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष राम जन्मभूमि मार्गदर्शक मंडल के सदस्य विष्णु हरि डालमिया का निधन• भदोही में एक निजी स्कूल वैन में लगी आग, 19 बच्चे झुलसे• मथुरा के यमुना एक्सप्रेस वे पर, रफ्तार का कहर 3 की मौत• जहरीली शराब कांड का इनामी बदमाश कानपुर पुलिस की गिरफ्त में• गाजियाबाद में स्वाइन फ्लू की दस्तक, स्वास्थ्य विभाग अलर्ट• प्रयागराज में हर्ष फायरिंग दौरान, एक को लगी गोली• पेट्रोल-डीजल के दामों ने फिर दिया झटका, क्या रहे आपके शहर के दाम• RRB ग्रुप डी आंसर की जारी 14 से 19 जनवरी तक दर्ज कराएं अपनी आपत्ति• सवर्णों को 10% आरक्षण बिल को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती• अयोध्या विवाद संवैधानिक बेंच से जस्टिस यूयू ललित हटे, 29 जनवरी को फिर से होगी सुनवाई• जम्मू-कश्मीर के आईएएस शाह फ़ैसल ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए इस्तीफ़ा देने का किया ऐलान I• हाई पावर कमेटी आलोक वर्मा पर आगे का फैसला लेगी। कमेटी में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़के व जस्टिस एके सीकरी उपस्थित रहेंगे।• सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा

जम्मू-कश्मीर में पीडीपी-बीजेपी गठबंधन को लेकर सस्पेंस बरकरार, राज्यपाल ने कल तक मांगा जवाब

जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने को लेकर बीजेपी और पीडीपी में एक-साथ नजर नहीं आ रहे हैं। बीजेपी-पीडीपी की सरकार बनाने के लेकर अलग-अलग राय है।

सूत्रों के मुताबिक, राज्य में पीडीपी के बड़े नेता फिर से चुनाव करना चाहते हैं, लेकिन बीजेपी इस दिशा में खुलकर कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। इसी बीच राज्य के राज्यपाल एनएन वोहरा ने पूछा कि बीजेपी और पीडीपी क्या गठबंधन को आगे चलाना है या नहीं। राज्यपा ने महबूबा मफ्ती और बीजेपी अध्यक्ष को पत्र लिखकर सरकार को लेकर अपना रूख साफ करने को कहा है। इसके लिए बीजेपी-पीडीपी को मंगलवार तक का समय दिया गया है।

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने आज पीडीपी विधायक दल की बैठक की। रविवार को भी महबूबा ने बैठक बुलाई थी, लेकिन बैठक में कोई नतीजा नहीं निकला।

बता दें कि, राज्य में सरकार को लेकर महबूबा मुफ्ती पहले ही कह चुकी हैं कि वह सरकार बनाने के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन जब तक उन्हें अपने सहयोगी दल बीजेपी की तरफ से यह आश्वासन नहीं मिल जाता कि उनके स्वर्गीय पिता की विचारधारा का अनुसरण किया जाएगा, तब तक यह संभव नहीं है।

गौरतलब है कि, जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद का निधन 7 जनवरी, 2016 को हुआ था।

संबंधित समाचार

:
:
: