Headline • महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड• कर्नाटक संकट का असर राज्यसभा में• अहमदाबाद की अदालत  में राहुल गांधी• व्हाइट हाउस में भरा बारिश का पानी • क्या अनुपमा परमेसरन को डेट कर रहे जसप्रीत बुमराह• पाकिस्तान को आंख दिखाता नाग• यूएई और भारत के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर होगी बात• कर्नाटक में सियासी संकट• सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है: राहुल गांधी

बिहार चुनाव: आपत्तिजनक टिप्पणियां करने पर आयोग ने शाह, राहुल और लालू को भेजा नोटिस

पटना: चुनाव आयोग ने रविवार को देश की तीन राजनीतिक पार्टियों बीजेपी, कांग्रेस और आरजेडी के तीन बड़े नेताओं अमित शाह, राहुल गांधी और लालू यादव को बिहार विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान आपत्तिजनक टिप्पणियां करने के संबंध में नोटिस भेजे हैं।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को उनकी 'पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे' संबंधी कथित टिप्पणी के लिए रविवार रात चुनाव आयोग ने 'कारण बताओ' नोटिस जारी करते हुए कहा कि प्रथम दृष्टया में उन्होंने बिहार में लागू आचार संहिता का उल्लंघन किया है।

गौर हो, शाह ने गुरुवार को पूर्वी चंपारण जिले में भारत-नेपाल सीमा स्थित रक्सौल में एक चुनावी रैली के दौरान कथित तौर पर कहा था कि अगर गलती से भी महागठबंधन की सरकार सत्ता में आईं तो बिहार में जंगल राज पार्ट-2 आएगा। और बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार हुई तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे।' चुनाव आयोग द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है 'प्रथम दृष्टया आयोग का विचार है कि इस तरह का बयान -- जो सौहार्द बिगाड़ सकता है और सामाजिक एवं धार्मिक समुदायों के बीच वर्तमान में मौजूद मतभेदों को गहरा कर सकता है -- देकर आपने आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन किया है।'

चुनाव आयोग ने कहा कि आदर्श आचार संहिता के एक प्रावधान में कहा गया है कि किसी भी पार्टी या उम्मीदवार को ऐसी किसी गतिविधि में लिप्त नहीं होना चाहिए जिससे विभिन्न जातियों, समुदायों या धार्मिक एवं भाषायी समुदायों के बीच तनाव हो या परस्पर नफरत हो या वर्तमान मतभेद और गहरे हों।

शाह ने रक्सौल में जो कुछ कथित तौर पर कहा, वही बात उन्होंने गुरुवार को ही पश्चिमी चंपारण जिले के बेतिया में एक अन्य रैली में दोहराया।

शाह के अलावा चुनाव आयोग ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के 'बीजेपी हिंदू-मुसलमान को एक-दूसरे से लड़वाती है' टिप्पणी के लिए उनको 'कारण बताओ' नोटिस जारी करते हुए कहा कि कांग्रेस नेता ने बिहार विधानसभा चुनावों के लिए लागू आदर्श आचार संहिता का प्रथम दृष्टया उल्लंघन किया।

साथ ही आयोग ने आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद को उनकी उस टिप्पणी के लिए 'कारण बताओ' नोटिस जारी किया जिसमें लालू ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को 'नरभक्षी' और 'पागल आदमी' कहा था। आयोग ने लालू की उस कथित टिप्पणी का भी उल्लेख किया जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'पिशाच' कहा था।

लालू को नोटिस जारी करते हुए आयोग ने कहा कि आरजेडी प्रमुख ने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है।

आयोग ने इन तीनों नेताओं को 4 नवंबर की शाम 3 बजे तक नोटिस का जवाब देने को कहा हैं। ऐसा ना करने पर आयोग ने कार्रवाई करने की बात कहीं हैं।

संबंधित समाचार

:
:
: