Headline • मसूद अजहर मौत के दरवाजे पर • सुनैना रोशन के ब्वॉयफ्रेंड रुहेल ने रोशन परिवार पर लगाया आरोप • माइकल क्लार्क ने बुमराह और कोहली के बारे में कहा• हफ्ते भर की देरी के बाद मानसून अब  देगा दस्तक  •  राम रहीम ने की पैरोल मांग• रणबीर कपूर और आलिया के रिश्ते पर लग सकती है मुहर • रूस अमेरिका से रिश्ते मधुर करने में जुटा • यूपी के 15 शहरों के लिए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) की चेतावनी • मायावती का अखिलेश पर बड़ा आरोप, अखिलेश के कारण हुई हार• चेन्नई की प्यास बुझाने के लिए चलाई गई स्पेशल ट्रेन• भारत की निगाह बड़ी जीत पर, अफगानिस्तान के खिलाफ विश्व कप में पहली बार भारत• बिहार में मानसून पहुंचने से लोगो ने ली राहत की सांस • एक बार फिर सदन में तीन तलाक के मुद्दे पर तीखी बहस • विश्व कप में अंतिम चार के लिए अपनी दावेदारी मजबूत करने उतरेगा भारत • संकट में कुमारस्वामी की सरकार, एचडी देवगौड़ा ने मध्यावधि चुनाव की आशंका जताई• अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंन्द मोदी का दुनिया को सन्देश। • गौतम गंम्भीर ने साझा किए इमोशनल मैसेज • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी  रांची  में करेगें योग • भारत को आतंक का नया ठिकाना बनाने की फिराख में है ISIS के आतंकी• अमेरिका के इस कदम से, कामकाजी भारतीयों को होगी परेशानी• चुनाव के बाद तेजस्वी कहाँ गायब हो गये है।• 14 साल बाद आया अय़ोध्या आतंकियों पर अदालत का फैसला • फिल्म ‘आर्टिकल 15’ विवादों में घिरती नजर आ रही है • अमरीका और ईरान का खाड़ी में तनाव गहराया • 'एक देश एक चुनाव' से विपक्ष क्यों नाराज

आज शुरू हो रहा है मॉनसून सत्र, संसद में हंगामें के आसार

नई दिल्ली- जैसा की संसद के मॉनसून सत्र में मुकाबला होने का संकेत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ दिन पहले ही दे चुके है। सोमवार को भी कांग्रेस ने सुषमा स्वराज, वसुंधरा राजे और शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे न होने तक कार्यवाही न चलने देने की बात दोहराई, मगर केंद्र सरकार ने साफ कर दिया कि वह विपक्ष के दबाव के कारण किसी मंत्री को नहीं हटाएगी। ऐसे में मॉनसून सत्र के पहले हफ्ते में हंगामे होने के पूरे-पूरे आसार है।

मॉनसून सत्र को सुचारु रूप से चलाने के लिए एक दिन पहले यानि सोमवार को दो सर्वदलीय बैठकें हुईं। संसदीय कार्यमंत्री एम.वैंकेया नायडू की ओर से बुलाई गई ऑल पार्टी मीटिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा 29 दलों के 42 नेताओं ने हिस्सा लिया। तृणमूल कांग्रेस से कोई नेता नहीं पहुंचा। राज्यसभा में नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा कि ललित मोदी और व्यापम मामले से जुड़े नेताओं को जब तक नहीं हटाया जाता, कांग्रेस संसद नहीं चलने देगी। नायडू ने कांग्रेस की मांग खारिज करते हुए बताया कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ललित मोदी के यात्रा संबंधी दस्तावेजों को लेकर अपने ऊपर लगे आरोपों के बारे में सदन में बयान देना चाहती हैं।

शाम को रणनीति बनाने के लिए एनडीए के घटक दलों की बैठक हुई। बीते एक साल में यह पहला मौका है जब सत्र शुरू होने से पहले एनडीए की बैठक हुई है। इस बीच लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने बताया कि लैंड बिल पर बनी संयुक्त संसदीय समिति को रिपोर्ट सौंपने के लिए अगस्त के पहले हफ्ते तक का एक्सटेंशन दे दिया गया है। समिति की समयसीमा दूसरी बार बढ़ाई गई है। समिति की रिपोर्ट मॉनसून सत्र में आने की संभावना कम ही है। ऐसे में सरकार को चौथी बार भूमि अध्यादेश जारी करना पड़ सकता है।

संसद की कार्यवाही ठप करने के मुद्दे पर कांग्रेस अलग पड़ गई है। क्योकि समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव ने लैंड बिल समेत सभी मुद्दों को सुलझाकर संसद का कामकाज सुचारु रूप से चलाने की बात कहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने फौरन एसपी नेता से सहमति जताते हुए कहा कि सरकार की मुमकिन कोशिश रहेगी कि हर मुद्दे पर नियमों के तहत चर्चा हो।

संबंधित समाचार

:
:
: