Headline • लंदन मे पाकिस्‍तानी मंत्री पर जमकर बरसे लात घूंसे, भारत को दी थी परमाणु युद्ध की धमकी !• कांग्रेस के दो बड़े नेता जयराम रमेश के बाद अब अभिषेक मनु सिंघवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खलनायक के तौर पर पेश करने को लेकर जताई आपत्ति ! • जी-7 समिट में पीएम मोदी और ट्रंप करेंगे कश्‍मीर पर चर्चा, 370 भारत का अंधरूनि मामला : US• पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम अंडरग्राउंड, तलाश में ईडी और सीबीआई अधिकारी !• मौसम विभाग ने दी चेतावनी महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल समेत कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी !• धारा 370 हटने के बाद बारामूला में हुई पहली मुठभेड़, एक SPO अधिकारी शहीद !• अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर कही कश्मीर पर मध्यस्थता की बात !• चंद्रमा की कक्षा में स्थापित हुआ चंद्रयान-2, इसरो की प्रेस कांफ्रेस आज !• SBI खत्‍म करेगा डेबिट कार्ड, योनो से हि निकलेगा कैश और होगी डिजिटल पेमेंट !• जाकिर नाइक पर कसा शिकंजा, अब भाषण देने पर मलेशिया ने लगाई रोक !• अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ट्विट: कश्‍मीर में एक कठिन स्‍थिति, लेकिन अच्‍छी बातचीत !• पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली की हालत बेहद नाजुक, AIIMS में भर्ती !• केन्‍द्रीय मंत्री जितेन्‍द्र सिंह का पाक अधिकृत कश्‍मीर पर बयाना, अब POK के देश में शामिल होने की करें दुआ !• रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान से फिर बौखलाया पाक, महमूद कुरैशी का आया यह बयान !• कश्‍मीर में हो रहा मानवअधिकारों का उल्‍लंघन : ममता बनर्जी • 'मेक इन इंडिया': इसरो का निजी कंपनियों को पांच पीएसएलवी बनाने का न्योता !• अमेरिका के उप विदेश सचिव भारत दौरे पर, रणनीतिक मुद्दों पर चर्चा !• आर्टिकल 370: J&K में प्रतिबंध कें बाद टूजी इंटरनेट सेवाएं चरणबद्ध तरीके से धीरे धीरे हो रही बहाल !• UNSC में J&K पर चीन और पाक की हर चाल को भारत ने किया खारिज !• भाजपा को कश्मीरियों से नहीं, वहा की जमीन से है प्यार : ओवैसी• अमेरिका कर रहा एशिया-प्रशांत क्षेत्र में मिसाइल तैनाती की तैयारी, चीन की चेतावनी !• विंग कमांडर अभिनंदन को मिलेगा वीर चक्र !• चीन ने कश्‍मीर मुद्दे के समाधान के लिए UN मध्‍यस्‍थता की बात कही !• अमेरिका में बोले भारतीय राजदूत, आर्टिकल-370 खत्‍म करना भारत का आंतरिक मामला !• डिस्कवरी चैनल के प्रसिद्ध प्रोग्राम 'मैन वसेर्ज वाइल्ड' में बेयर ग्रिल्स के साथ दिखें पीएम नरेंद्र मोदी !


कोयला घोटाला मामले में अदालत की ओर से आरोपी बनाए गए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के प्रति समर्थन और एकजुटता दिखाते हुए सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं ने गुरूवार को एआईसीसी मुख्यालय से उनके आवास तक मार्च किया। कांग्रेस सोनिया गांधी, सीडीब्ल्यूसी सदस्य, पार्टी के सांसद और अन्य पदाधिकारी ने 24 अकबर रोड पर बैठक के बाद एकता मार्च को निकाला। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मनमोहन सिंह के आवास 3, मोतीलाल नेहरू मार्ग तक मार्च की अगुवाई की।

सोनिया गांधी ने कहा कि हम यहां मनमोहन सिंह के प्रति पूर्ण समर्थन और एकजुटता व्यक्त करने आए हैं। हम अपने पास मौजूद सभी कानूनी संसाधनों के साथ लड़ाई लड़ेंगेए मुझे यकीन है कि हम सही साबित होंगे।  सोनिया ने कहा कि उनके पास जो भी कानूनी तरीके हैं उसके तहत वे कानूनी लड़ाई लड़ेंगी। 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मनमोहन सिंह को सम्मन करने वाली खबर सुनकर मैं व्यथित हूं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री केवल अपने देश में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में ईमानदारी और शुचिता के लिए जाने जाते हैं। हम यहां अपना पूरा समर्थन देने और अपनी एकजुटता दिखाने के लिए आए हैं।

 मनमोहन सिंह पर सोनिया गांधी ने एक बार फिर अपना भरोसा जताया है इसलिए कांग्रेस ने आधिकारिक रूप से देश के सबसे ईमानदार लोगों में एक बताया है। पार्टी का कहना है कि ओडिशा के तालावीरा 2 और 3 में हिंडाल्को को 15 फीसदी की हिस्सेदारी देने के मामले में सीबीआई जांच कर चुकी है और इसे निष्पक्ष और पारदर्शी बताया है। पार्टी कोल ब्लॉक की नीलामी के बारे में कानून बनाने में हुई देरी के लिए विपक्ष को जिम्मेवार मानती है।

 गौरतलब है कि, मनमोहन सिंह को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने बतौर आरोपी 8 अप्रैल को कोर्ट में पेश होने को कहा है। मनमोहन सिंह को दिल्ली की पटियाला अदालत ने कोल ब्लाॅक मामले में आरोपी बनाया है। जिसके चलते मनमोहन सिंह को अगले महीने कोर्ट में पेश होना होगा।

 उधर एनसीपी के शरद पवार ने कहाए मनमोहन सिंह जैसे सम्मानित शख्स की ईमानदारी को हम सब जानते हैंए लेकिन उनको भी हालात का सामना करना पड़ेगा। हमें अदालत का सम्मान करना चाहिए।

संबंधित समाचार

:
:
: