Headline • वाह री मेरठ पुलिस! एफआईआर से आरोपी का नाम हटाकर ऐसे व्यक्ति का नाम जोड़ दिया जो इस दुनिया में नहीं है• हरिद्वार की अंडर-16 क्रिकेट टीम के चयन का मामला पहुंचा नैनीताल हाईकोर्ट  • संभल में एसिड अटैक की घटना निकली झूठी, ससुरालियों को फंसाने के लिए भाई से ही डलवा ली थी एसिड की कुछ छींटे • BJP नेता कुसुम राय पर आरोप, पुलिस पर दबाव डालकर गिरवाई पड़ोसी के घर की दीवार, पीड़ित की सुनवाई नहीं• योगी सरकार ने गन्ना किसानों को दी बड़ी सौगात• पुलिस ने 80 साल के बुजुर्ग को बनाया बलात्कारी, जेल में हुई मौत,परिजन मांग रहे न्याय• आज से शुरू होगा कसौटी जिंदगी की, प्रोमो में दिखी थी कोमोलिका की झलक• कन्नौज के डबल मर्डर के आरोपी ममेरे भाइयों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 21 सितंबर को हुई थी हत्या• प्रेमिका की जिद पर बीवी को दिया फोन पर तलाक, फिर थाने में कर लिया प्रेमिका से निकाह• हमीरपुरः कंस मेले के रूट को लेकर बवाल, आयोजकों की जिद के आगे झुका प्रशासन• सफाईनायक से बीजेपी विधायक बोले, सुधर जाओ नहीं तो 1 घंटे में मुकदमा दर्ज कर सीधा जेल भिजवा दूंगा• बीएचयू में देर रात हुए बवाल के बाद हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर,स्वास्थ्य सेवा चरमराई• सपना चौधरी को बर्थड़े पर मिला ये सरप्राइज, सेलिब्रेशन के वीडियो हो रहे वायरल• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, दागी नेताओं के खिलाफ कानून बनाए सरकार • संभल: बाइक लूटकर भाग रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़,एक बदमाश को लगी गोली,दो पुलिसकर्मी भी घायल• ग्रेटर नोएडा :एलएलबी के छात्र को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में भर्ती• राहुल गांधी के अमेठी दौरे का आज दूसरा दिन, कार्यकर्ताओं से करेंगे मुलाकात• 2 घंटे तक आगरा में रहेंगे सीएम योगी आदित्यनाथ,ये है पूरा कार्यक्रम• इलाहाबाद : एनसीसी कैंप में खाना खाने से 30 से ज्यादा छात्र बीमार, अस्पताल में भर्ती• मेरठ : अलग-अलग मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी समेत तीन बदमाश घायल• बीएचयू में देर रात आगजनी और तोड़फोड़,भारी पुलिस बल तैनात• राफेल पर राहुल का पीएम मोदी पर वार, कहा- 'चौकीदार ने अनिल अंबानी से चोरी करवाई'• मैनपुरी : चाचा ने नाबालिग भतीजी के साथ किया दुष्कर्म• कच्ची शराब का विरोध करना पड़ा भारी,दबंगों ने तोड़ दिया महिला का पैर• शादी के 20 साल बाद पति ने खत भेजकर पत्नी को दिया तीन तलाक


देहरादूनः आखिरकार तकरीबन सवा साल बाद कांग्रेस संगठन में प्रीतम राज की शुरूआत हो गई है। जी हां 26 सांगठनिक जिलों में से 23 में घोषित जिलाध्यक्ष और महानगर अध्यक्षों में अधिकतर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिहं की पसंद के चुने गए हैं। इससे साफ हो गया है की अब प्रीतम सिंह आगे सभी बौने है। नियुक्तियों के बाद प्रीतम सिंह के विरोधी अपने हिसाब से ही बनाने में जुट गए हैं। 

कांग्रेस के सांगठनिक बदलाव के पहले चरण पर पूरी तरह से प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिहं की छाप दिखाई दे रही है। 23 जिला महानगर अध्यक्षों में 19 को सीधा प्रीतम कैंप का वफादार माना जा रहा है। दून हरिद्वार में बदले गए पांचों अध्यक्ष प्रीतम कैंप से जुड़े हैं तो पिथौरागढ,चंपावत और उधमसिंहनगर में भी प्रीतम कैंप से जुडे नेताओं को ही तरजीह दी गई है।

हालांकि नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह््रदयेश को भी तरजीह मिली है। साथ ही सबको साथ लेकर चलने की रणनीति के तहत प्रीतम सिंह ने इन नियुक्तियों में पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के साथ ही विधायकों और पूर्व विधायकों की इच्छा का भी ध्यान रखा है। 

अलबत्ता पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और उनके खासमखास माने जाने वाले गोविंद सिंह कुजवाल के लिए जिले में की गई नई नियुक्तियों से झटका लगा है। कुमाऊ मंडल और हरिद्वार जिले में रावत खेमे से जुदा नए चेहरों पर दांव खेला गया है। 

जी हां बीते विधानसभा चुनाव में बुरी तरह शिकस्त मिलने के बाद कांग्रेस ने बीते वर्ष मई माह में किशोर उपाध्याय के स्थान पर प्रीमत सिंह को नए प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर नियुक्त किया था। अभीतक तक प्रीतम सिंह जिलों से लेकर प्रदेश स्तर तक पुरानी कार्यकारिणी को ही साथ लेकर चले थे। अब इसमें बदलाव किया गया। हालांकि बदलाव एआईसीसी और पीसीसी सदस्यों की सूची में भी झलका था लेकिन रविवार को 23 सांगठनिक जिलों के अध्यक्षों की घोषणा के साथ प्रदेश में सांगठनिक स्तर पर प्रीतम सिंह का असर दिखने लगा है।

सूची में 26 सांगठनिक जिलों में पौड़ी के दो सांगठनिक जिलों पौड़ी और कोटद्वार तथा हरिद्वार जिले के हरिद्वार ग्रामीण में मौजूदा जिलाध्यक्षों को अभी बरकरार रखा गया है। वहीं उत्तरकाशी और टिहरी जिलों की ईकाईयों के मौजूदा और कार्यवाहक अध्यक्षों पर ही भरोसा जताया गया है। टिहरी जिला कांग्रेस कमेटी में पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय की पसंद के मुताबिक जिलाध्यक्ष सूरज राणा को बरकरार रखा गया है।

इसी तरह से देवप्रयाग जिला कांग्रेस कमेटी में भी बदलाव नहीं किया गया है। देहरादून जिले की तीनों जिला सांगठनिक इकाईयों में पुरानों की जगह नए अध्यक्षों को मौका दिया गया है। लाल चंद्र शर्मा को देहरादून महानगर, संजय किशोर को पछुवादून और गौरव सिंह को परवादून का अध्यक्ष बनाया गया है। 

वहीं हरिद्वार में अब पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के खास माने जाने वाले जिलाध्यक्षों की जगह नई नियुक्तियां की गई है। इसी तरह जिला कांग्रेस कमेटी अल्मोड़ा के अध्यक्ष पद पर मोहन सिंह मेहरा को बिठाया गया है जो कुंजवाल के खिलाफ दावेदारी ठोकने के लिए जाने जाते हैं। 

नैनिताल जिले में नैनीताल और हल्द्वानी में सतीश नैनवाल और राहुल छिमवाल को मौका दिया गया है जो इंदिरा ह््रदयेश की पंसद माने जाते हैं। रूद्रप्रयाग में विधायक मनोज रावत, डीडीहाट में विधायक हरीश धामी ,और रानीखेत में उप नेता की सिफारिश पर अध्यक्ष बनाए गए हैं।

वहीं उधमसिंह नगर में अध्यक्ष बनाए गए जितेन्द्र शर्मा का हरीश किशोर कैंप से छत्तीस का आंकड़ा है। वहीं पिथौरागढ़ में पूर्व विधायक मयूख मेहर ने अपने खास मोहन सिंह महर को अध्यक्ष बनाया है। हालांकि कुल मिलाकर पहली लिस्ट में प्रीतम सिंह ने ज्यादा अपनी चलाई और थोडी दूसरों की सुनी है वहीं अब कार्यकारिणी का इंतजार है कि उसमें प्रीतम किसकी सुनते हैं। 

प्रीतम सिंह के अनुसार उन्होंने योग्यता के हिसाब से जिम्मेदारी दी है और उन्हें उम्मीद है की चुने गए प्रतिनिधि अच्छा काम करेंगे। 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: