Headline • पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी गिरफ्तार • 90 बीघे जमीन के लिए चली अंधाधुंध गोलियां, बिछ गई लाशें• धौनी के माता-पिता भी चाहते है कि वो अब क्रिकेट से संन्यास ले• चंद्रयान-2 की आयी डेट; 22 जुलाई को होगा लॅान्च • कुलभूषण जाधव केस : 1 रुपये वाले साल्वे ने पाकिस्तान के 20 करोडं रुपये वाले वकील को दी मात • कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष , किसी भी नाम को लेकर सहमति नहीं• पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर


देहरादूनः आखिरकार तकरीबन सवा साल बाद कांग्रेस संगठन में प्रीतम राज की शुरूआत हो गई है। जी हां 26 सांगठनिक जिलों में से 23 में घोषित जिलाध्यक्ष और महानगर अध्यक्षों में अधिकतर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिहं की पसंद के चुने गए हैं। इससे साफ हो गया है की अब प्रीतम सिंह आगे सभी बौने है। नियुक्तियों के बाद प्रीतम सिंह के विरोधी अपने हिसाब से ही बनाने में जुट गए हैं। 

कांग्रेस के सांगठनिक बदलाव के पहले चरण पर पूरी तरह से प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिहं की छाप दिखाई दे रही है। 23 जिला महानगर अध्यक्षों में 19 को सीधा प्रीतम कैंप का वफादार माना जा रहा है। दून हरिद्वार में बदले गए पांचों अध्यक्ष प्रीतम कैंप से जुड़े हैं तो पिथौरागढ,चंपावत और उधमसिंहनगर में भी प्रीतम कैंप से जुडे नेताओं को ही तरजीह दी गई है।

हालांकि नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह््रदयेश को भी तरजीह मिली है। साथ ही सबको साथ लेकर चलने की रणनीति के तहत प्रीतम सिंह ने इन नियुक्तियों में पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के साथ ही विधायकों और पूर्व विधायकों की इच्छा का भी ध्यान रखा है। 

अलबत्ता पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और उनके खासमखास माने जाने वाले गोविंद सिंह कुजवाल के लिए जिले में की गई नई नियुक्तियों से झटका लगा है। कुमाऊ मंडल और हरिद्वार जिले में रावत खेमे से जुदा नए चेहरों पर दांव खेला गया है। 

जी हां बीते विधानसभा चुनाव में बुरी तरह शिकस्त मिलने के बाद कांग्रेस ने बीते वर्ष मई माह में किशोर उपाध्याय के स्थान पर प्रीमत सिंह को नए प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर नियुक्त किया था। अभीतक तक प्रीतम सिंह जिलों से लेकर प्रदेश स्तर तक पुरानी कार्यकारिणी को ही साथ लेकर चले थे। अब इसमें बदलाव किया गया। हालांकि बदलाव एआईसीसी और पीसीसी सदस्यों की सूची में भी झलका था लेकिन रविवार को 23 सांगठनिक जिलों के अध्यक्षों की घोषणा के साथ प्रदेश में सांगठनिक स्तर पर प्रीतम सिंह का असर दिखने लगा है।

सूची में 26 सांगठनिक जिलों में पौड़ी के दो सांगठनिक जिलों पौड़ी और कोटद्वार तथा हरिद्वार जिले के हरिद्वार ग्रामीण में मौजूदा जिलाध्यक्षों को अभी बरकरार रखा गया है। वहीं उत्तरकाशी और टिहरी जिलों की ईकाईयों के मौजूदा और कार्यवाहक अध्यक्षों पर ही भरोसा जताया गया है। टिहरी जिला कांग्रेस कमेटी में पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय की पसंद के मुताबिक जिलाध्यक्ष सूरज राणा को बरकरार रखा गया है।

इसी तरह से देवप्रयाग जिला कांग्रेस कमेटी में भी बदलाव नहीं किया गया है। देहरादून जिले की तीनों जिला सांगठनिक इकाईयों में पुरानों की जगह नए अध्यक्षों को मौका दिया गया है। लाल चंद्र शर्मा को देहरादून महानगर, संजय किशोर को पछुवादून और गौरव सिंह को परवादून का अध्यक्ष बनाया गया है। 

वहीं हरिद्वार में अब पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के खास माने जाने वाले जिलाध्यक्षों की जगह नई नियुक्तियां की गई है। इसी तरह जिला कांग्रेस कमेटी अल्मोड़ा के अध्यक्ष पद पर मोहन सिंह मेहरा को बिठाया गया है जो कुंजवाल के खिलाफ दावेदारी ठोकने के लिए जाने जाते हैं। 

नैनिताल जिले में नैनीताल और हल्द्वानी में सतीश नैनवाल और राहुल छिमवाल को मौका दिया गया है जो इंदिरा ह््रदयेश की पंसद माने जाते हैं। रूद्रप्रयाग में विधायक मनोज रावत, डीडीहाट में विधायक हरीश धामी ,और रानीखेत में उप नेता की सिफारिश पर अध्यक्ष बनाए गए हैं।

वहीं उधमसिंह नगर में अध्यक्ष बनाए गए जितेन्द्र शर्मा का हरीश किशोर कैंप से छत्तीस का आंकड़ा है। वहीं पिथौरागढ़ में पूर्व विधायक मयूख मेहर ने अपने खास मोहन सिंह महर को अध्यक्ष बनाया है। हालांकि कुल मिलाकर पहली लिस्ट में प्रीतम सिंह ने ज्यादा अपनी चलाई और थोडी दूसरों की सुनी है वहीं अब कार्यकारिणी का इंतजार है कि उसमें प्रीतम किसकी सुनते हैं। 

प्रीतम सिंह के अनुसार उन्होंने योग्यता के हिसाब से जिम्मेदारी दी है और उन्हें उम्मीद है की चुने गए प्रतिनिधि अच्छा काम करेंगे। 

संबंधित समाचार

:
:
: