Headline • धोनी की बैटिंग देख विराट बोले- धोनी ने तो हमें डरा ही दिया था• पीएम मोदी के अनुरोध पर शाहरुख खान ने एक मजेदार विडियो बना लोगों से की वोटिंग की अपील • श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट: श्रीलंका में अब तक बम धमाकों में मरने वालों की संख्‍या 290 पहुंची • राहुल गांधी का ऐलान सरकार बनी तो राष्ट्रीय बजट के साथ किसानों के लिए करेंगे दूसरा बजट पेश• चुनावी माहौल में ट्विंकल खन्ना ने ली अरविंद केजरीवाल पर चुटकी• बाटला हाउस का जिक्र कर पीएम मोदी ने सादा कांग्रेस पर निशाना • यूएई में आज पहले हिंदू मंदिर का शिलान्यास समारोह• रेल हादसा: कानपुर के पास पूर्वा एक्सप्रेस पटरी से उतरी 100 के करीब लोग घायल • लोकसभा चुनाव 2019: बसपा सुप्रीमो मायावती ने मुलायम के बाद अब आजम खां को दिया समर्थन • विराट सेना' का आज कोलकाता से 'करो या मरो' का मुकाबला• कलंक' स्टार वरुण धवन ने कहा, मुझे असफलता से डर नहीं लगता• सूडान में कैदियों की रिहाई और कर्फ्यू समाप्‍त होने पर अमेरिका ने कि प्रशंसा• 24 साल बाद एक मंच पर दिखें माया-मुलायम• रूस के वैज्ञानिकों का दावा 42 हजार साल पहले दफन घोड़े में मिला खून, अब बनाएंगे क्‍लोन • दिनोंदिन आलिया भट्ट और रणबीर कपूर का मजबूत होता रिश्‍ता रह सकते है लिव-इन पर • पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान बीजेपी-टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसा • लीबिया की राजधानी त्रिपोली में गृहयुद्ध की जंग में 205 की मौत, 913 के करीब घायल • लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण की 95 सीटों पर वोटिंग जारी• PM मोदी की फिल्‍म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का ट्रेलर यूट्यूब से हटा • साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बीजेपी में हुई शामिल • फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित 12वीं सदी का नोटे्र डाम कैथेड्रल चर्च आग लगने से तबाह • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महाराष्ट्र के माढा क्षेत्र में एक जनसभा को किया संबोधित • जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी को लेकर महिलाओं ने फूंके आजम खा के पोस्टर• चुनाव आयोग के फैसले को आजम के बेेटे अब्दुल्लाह आजम खान ने मुुुुसलमान विरोधी ठराया • कांग्रेस के इरादे और नीतियां ईमानदार नही धोखाधड़ी में की है पीएचडी: पीएम मोदी

30 हजार KM का सफर पूरा कर चुका है ये ट्रेवलर, जॉब छोड़ने पर लोगों ने उड़ाया था मजाक

नई दिल्ली. सपने को पूरा करने के लिए लोग किसी भी हद तक जाने को तैयार रहते हैं। कई बार रास्ते में रूकावटें भी आती है। लेकिन, उसे दूर कर मंजिल तक पहुंचनेवाला ही असली योद्धा कहलाता है। ट्रैवलिंग को अपनी जिंदगी माननेवाले अंशुल अखौरी का यही कहना है। वे अब तक देश के 22 राज्यों की यात्रा कर चुके हैं। करीब 30 हजार किमी का सफर तय कर चुके हैं।

 

ऐसे पूरा कर रहे ड्रीम

- अंशुल के लिए सपने को सच में बदलना इतना आसान नहीं रहा।

- उन्हें कई मोर्चों पर कभी खुद से तो कभी फैमिली और समाज का विरोध झेलना पड़ा।

- सबसे बड़ा फैसला था जॉब छोड़कर ट्रैवलिंग को अपनाने का।

- शुरुआत में फैमिली के सदस्य भी इसके लिए तैयार नहीं थे। वे भी विरोध में थे।

- लेकिन, अंशुल ने लक्ष्य को पाने के लिए बड़ा फैसला ले लिया।

- वे जॉब छोड़कर नोमैड की तरह देश की यात्रा पर निकल गए।

- इसके बाद अपनी स्टोरी को अलग-अलग पब्लिकेशन में भेजने लगे।

- कई रिजेक्शन के बाद उनकी स्टोरी छपने लगी। इससे अंशुल को राहत मिली। 

 

कई प्रोजेक्टस पर करते हैं काम

- घूमने के लिए उन्होंने कई ब्रांड्स के साथ काम करना शुरू कर दिया।

- वे एनजीओ के साथ भी जुड़ गए और वॉलंटियर के तौर पर काम करने लगे।

- इससे अंशुल की बजट की समस्या दूर होने लगी। उन्हें अपना सपना पूरा होता दिखने लगा।

- उन्होंने बताया कि की बार क्लाइंट्स से पैसे नहीं मिलने पर परेशानी बढ़ जाती है।

- लेकिन, घूमने का सपना पूरा हो रहा है। इस वजह से कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

- अंशुल के मुताबिक प्रोजेक्ट्स के तौर पर उन्हें ब्रांड्स के साथ काम करना ज्यादा पसंद है।

- वे लोकल कारीगरों को बढ़ावा देते हैं और उनका शोषण नहीं करते| 

 

किन्नौर में हुई थी ऐसी गलती

- ट्रैवलर अंशुल एक बार हिमाचल प्रदेश के किन्नौर गए थे।

- वे यहां के रिस्ट्रिक्टेड एरिया में घुस गए थे। इसके बाद ITBP के जवानो ने पकड़ लिया था|

- उस दिन अंशुल को लगा था की ये उनका आखिरी सोलो ट्रेवल है।

- हालांकि, काफी ज्यादा फटकार लगाने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया।

 

इनका क्या है कहना

- अंशुल जहां भी जाते हैं लोगों को देश घूमने की सलाह देते हैं।

- उनका मानना है कि किताबों से ज्यादा अनुभव और ज्ञान लोगों से मिलता है।

- बता दें कि अंशुल बिहार के रहनेवाले हैं। इनके पिता बैंक में जॉब करते हैं।

संबंधित समाचार

:
:
: