Headline • बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे को क्यो किडनैप करना चाहते थे शोएब अख्तर• सानिया मिर्जां के साथ पार्टी करना शोएब मलिक को पड़ा भारी।• केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन हुए परिजनों के गुस्से का शिकार • 17वी लोकसभा में प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष पर बोले • नाना पाटेकर को क्लिन चिट मिलने पर तनुश्री दत्ता ने कहा• बीजेपी, टीएमसी के बाद अब बंगाल में कांग्रेस का नाम भी आया राजनीतिक हिंसा में• आगामी भारत और पाकिस्तान के मैच में कैसा रहेगा, मैनचेस्टर में मौसम का मिजाज• मांगो को मानने के लिए ममता सरकार को 48 घंटे का डॉक्टरों ने दिया अल्टिमेटम• इतनी फिल्मे करने के बाद भी क्यों सलमान खान को लगता है समीक्षको से डर !• भारत और इंग्लैड के बीच होगा फाइनल मैच: गूगल सीईओ सुन्दर पिचाई• बीजेपी के सहयोगी नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू बजट सत्र में करेगी तीन तलाक का विरोध • 'टिकटॉक' विडियों बनाने के चक्‍कर में सलमान को लगी गोली, 2 युवक पहुंचे जेल • लोक सभा के बाद अमित शाह ने हरियाणा विजय की खास रणनीति बनाई• घट सकती है दिल्ली मेट्रों का किराया, 30 लाख से अधिक यात्रियों को फायदा• चक्रवाती तूफान 'वायु' ने अपना रास्ता बदला लेकिन एजेंसियां अलर्ट पर अभी खतरा बाकी है • महेंद्र सिंह धोनी के सेना के 'बलिदान बैज' वाले दस्तानों पर बहस तेज• अफगानिस्तान सेना के दस्ते ने आतंकी संगठन तालिबान की जेल से छुड़ाए 83 नागरिक• जगन मोहन रेड्डी ने पलटा चंद्रबाबू सरकार का फैसला, अब आंध्र प्रदेश में CBI कर सकेगी जांच• नमाज के दौरान बेकाबू कार ने भीड़ को मारी टक्‍कर हुआ हगामा • गृह मंत्रालय का प्रभार संभालते ही बीजेपी चीफ अमित शाह ऐक्शन में, जम्मू-कश्मीर में परिसीमन आयोग पर विचार• मायावती की सपा-बसपा प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के बाद अब अखिलेश ने तोड़ी चुप्पी, 'सभी सीटों पर अकेले लड़ेंगे उपचुनाव'• लोकसभा चुनाव प्रदर्शन से नाखुश बसपा बसपा सुप्रीमो मायावती का बड़ा फैसला, अब लड़ेगी सभी उपचुनाव • अमेरिका को चीन की युद्ध की धमकी से पड़ोसी देश चिंतित • भारतीय वायुसेना का एएन-32 विमान लापता, वायुसेना का सर्च ऑपरेशन जारी • अमेरिका ने भारत को GSP दर्जे से किया बाहर

इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण, PM ने कहा- हमारे वैज्ञानिकों ने बहुत बड़ा पराक्रम किया है

बालासोर. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने ओडिशा के बालासोर तट पर शनिवार को इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण कर मिसाइल तकनीक में एक और नई उपलब्धि हासिल की। इस द्वि-सतही बलिस्टिक इंटरसेप्टर मिसाइल का आज सुबह 7.45 बजे अब्दुल कलाम आइलैंड पर परीक्षण किया गया है। इस मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद भारत ने अपने रक्षा बेड़े को और मजबूत बनाया है। इस मिसाइल तकनीक से भारत दुश्मन के मिसाइल अटैक को आसानी से काउंटर कर सकेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के बालेश्वर से इंटरसेप्टर मिसाइल के सफल परीक्षण की प्रशंसा की है।

PDV मिशन के तहत अंजाम दिया गया है

-डिफेंस रिसर्च डिवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) के एक अधिकारी ने बताया, 'भारत ने इस इंटरसेप्टर मिसाइल को PDV मिशन के तहत अंजाम दिया है।
-यह मिसाइल धरती के वातारण से 50 किलोमीटर दूर ही दुश्मन के मिसाइल हमले को खाक करने में सक्षम होगी।'
-उन्होंने बताया कि 'पीडीवी इंटरसेप्टर और दो सतही लक्ष्यों पर वार करने में सक्षम मिसाइलें परीक्षण में कामयाब साबित हुई हैं।'
-यह मिसाइल ऑटोमेटिड ऑपरेशन, रडार आधारित और ट्रैकिंग सिस्टम आदि तकनीक से लैस है।
-जो कंप्यूटर नेटवर्क की मदद से डेटा की गणना कर बलेस्टिक मिसाइल हमले का पता लगाकर उस पर जवाबी हमला करने में सक्षम है।

क्या है पीडीवी तकनीक

-पीडीवी वह तकनीक है, जिसमें मिसाइल को जवाबी हमले के लिए तैयार रखा जाता है।
-कंप्यूटर से जरूरी कमांड मिलते ही यह मिसाइल जवाबी हमले के लिए निकलने को तैयार रहती है।
-जैसे ही यह मिसाइल धरती के वातावरण से बाहर निकलती है, इसकी हीट शील्ड इससे अलग हो जाती है और यह अपने लक्ष्य साध कर हमले करने को तैयार हो जाती है।

पीएम ने वैज्ञानिकों को सराहा

-पीएम ने कहा कि ‘आज मैं पूरे देश को खुशखबरी देना चाहता हूं। हमारे वैज्ञानिकों ने बहुत बड़ा पराक्रम किया है।
-'आज दुनिया में मिसाइल से लड़ाई होने की सम्भावना देखी जाती है। पाक ने ऐसी मिसाइल बनाई जो हमारे अण्डमान-निकोबार तक जा सकती है।'
-'लोग मिसाइल बनाकर डरा रहे हैं, लेकिन उससे बड़ा काम देश के वैज्ञानिकों ने कर दिया है।'
-'अब आसमान में 150 किलोमीटर ऊपर भी अगर दुश्मन की कोई मिसाइल आती है तो हमारी मिसाइल उसे वहीं राख कर देगी।'

संबंधित समाचार

:
:
: