Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए

ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IndiaDefeatsBlackMoney, लोगों में फैली थी ऐसी अफवाहें

नई दिल्ली. देश में नोटबंदी को लागू हुए एक महीना हो गया है। पीएम मोदी ने 8 नवंबर की शाम को 500 और 1000 के पुराने नोटों पर बैन लगाने की घोषणा की थी। कालेधन को खत्म करने के लिए वे इसे बड़ा फैसला बता चुके हैं। बता दें कि नोटबंदी के 1 महीने बाद पीएम ने ट्वीट कर लोगों के सहयोग के लिए उन्हें शुक्रिया कहा है। साथ ही, नोटबंदी के जरिए भारत को ब्लैकमनी से मुक्त करने की बात कही है।

 

पीएम ने और क्या कहा

 

- नरेंद्र मोदी ने ट्विटर के जरिए लोगों तक अपनी बात पहुंचाई है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि नोटबंदी से गरीबों, लोअर मीडिल क्लास और मीडिल क्लास के लोगों को फायदा मिलेगा।

- आपको बता दें कि पीएम के ट्वीट से पहले ही नोटबंदी को लेकर #IndiaDefeatsBlackMoney ट्विटर पर सुबह से ही ट्रेंड करने लगा था। इसके बाद लोग नोटबंदी के समर्थन में कमेंट करने लगे।

- हालांकि, कई लोगों ने ट्विटर पर नोटबंदी के खिलाफ गुस्सा भी जाहिर किया है। 1 महीने बाद भी कैश मिलने में हो रही दिक्कतों को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना भी साधा है।

- वहीं, विपक्षी पार्टियां नोटबंदी के एक महीने पूरे होने पर 'ब्लैक डे' मना रही है। सदन के बाहर विपक्षी सांसदों ने काली पट्टी लगाकर नोटबंदी का विरोध किया है।

- राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर पीएम पर निशाना साधा है। उन्होंने PAYTM का मजाक उड़ाते हुए कहा कि इसका मतलब 'PAY TO MODI' है।

 

जानें लोगों का क्या रहा रिएक्शन

 

 

ऐसे सामने आ रहा ब्लैकमनी

 

- केंद्र सरकार नोटबंदी के बाद 'कैशलेस इंडिया' को प्रमोट कर रही है। पीएम मोदी मोबाइल को ही बटुआ बनाने की बात कह चुके हैं।

- ब्लैकमनी को रोकने के लिए वे 'कैशलेस इंडिया' बनाने के लिए लोगों को आगे आने की अपील भी कर रहे हैं।

- 500 और 1000 के पुराने नोटों के बैन होने पर कई जगहों से ऐसे नोटों की मिलने की खबर आ रही है।

- राजस्थान के नवलगढ़ में 500 और 1000 के लाखों के पुराने नोट मिले हैं। वहीं, देश के दूसरे राज्यों से भी 500 और 1000 के पुराने नोट पकड़े जा रहे हैं।

- महाराष्ट्र के महाराष्ट्र के टिटवाला इलाके में कूड़े के ढेर के पास एक बोरी से 500-1000 के नोट मिल चुके हैं।

 

स्टेपवाइज जानें कैसे बंद हुए पुराने नोट

 

- बता दें कि नोटबंदी के फैसले के बाद 9 और 10 नवंबर को पूरे देश में ATM बंद कर दिया गया था।

- लोगों को नए नोट देने के लिए दो दिन ATM को बंद किया गया था। सरकार ने ATM मशीनों में नए नोट डलवाए थे।

- सबसे पहले पीएम मोदी ने सामान्य नागरिकों की जरूरतों के मुताबिक 11 नवंबर रात 12 बजे तक विशेष व्यवस्था की थी।

- सरकारी हॉस्पिटल, एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस अड्डो सहित कई जगहों पर पुराने नोट स्वीकार करने को कहा गया था।

- लोगों की दिक्कतों को समझते हुए पीएम ने कई बार इसका डेट बढ़वाया। इससे लोगों को पुराने नोट चलाने में मदद मिली।

 

ATM से निकालने के लिए तय की गई निश्चित राशि

 

- सरकार ने 18 नवंबर तक एक कार्ड से एक दिन में सिर्फ 2000 रुपए ही निकालने की अनुमति दी थी।

- इसके बाद 19 नवंबर से एक कार्ड के जरिए 2500 रुपए निकालने की इजाजत दी गई थी।

- वहीं, बैंकों से एक सप्ताह में निकाले जाने की राशि सीमा शुरुआत में 20 हजार रुपए रखी गई थी।

- लोगों की दिक्कतों को देखते हुए RBI ने 15 नवंबर से बैंक के जरिए एक खाते से 24 हजार रुपए निकालने की अनुमति दी थी।

- साथ ही पुराने नोटों को भी पेट्रोल पंप, सरकारी हॉस्पिटल सहित आवश्यक सेवाओं में यूज करने के लिए 24 नवंबर तक बढ़ा दिया था।

- 1000 रुपए के पुराने नोट 24 नवंबर की आधी रात से चलने बंद हो गए थे। इन्‍हें केवल बैंकों और पोस्‍ट ऑफिस के अकाउंट में जमा कराने की अनुमति की गई थी।

- वहीं, 500 रुपये और 1,000 रुपये के नोटों को बैंक में जमा कराने की अंतिम तारीख 30 दिसंबर 2016 तक कर दी गई है।

 

नोटबंदी के खिलाफ फैले 10 बड़े अफवाह

 

1- एक नवंबर को ट्रांसपोर्टर हड़ताल पर जा रहे हैं, इसलिए अपने घर का आवश्यक सामान पहले ही जुटा लें ये कहा गया कि वे सोमवार से हड़ताल पर जाएंगे ।

2- ये भी झूठ फैलाया गया कि 2000 के नए नोट में नैनो चिप है। RBI ने आगे आकर स्पष्ट कर दिया कि ऐसा कुछ भी नहीं है ।

3- बैंक में जमा किये गए नकद पर 200% जुर्माना लगाया जाएगा । इस डर को आम जनता में अफवाह की तरह फैलाया गया। जबकि, ख़ुद वित मंत्रालय ने इसे गलत करार दिया।

4- लम्बी कतार होने के कारण बैंकों के व एटीएम के बाहर दंगे-फसाद की भी अफवाह फैली थी। लेकिन पूरे भारत में कुछ घटनाओं को छोड़कर कोई भी रिपोर्ट कहीं दर्ज नहीं की गयी ।

5- बैंकों में पैसों की कमी होने के कारण लोगों ने आत्महत्या कर ली । लेकिन बाद में पता चला कि नोट बंदी और पैसे की कमी इसकी वजह नहीं थी ।

6- 10 रुपये के सिक्के बंद होने का अफवाह भी नोटबंदी के बीच फैलाया गया।

7- 2000 रुपये का नया नोट जारी हुआ तो कुछ रिपोर्ट्स आई थीं कि यह नोट रंग छोड़ रहा है। इसके बाद वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने इसे असली नोट बताया।

8- नोटबंदी के बाद सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाया जा रहा था कि अब सरकार बैंक लॉकर को सील करने के साथ-साथ सोने, चांदी, हीरे और अन्य आभूषणों को जब्त करेगी।

9- नोटबंदी के ठीक तीन दिन बाद यानि 11 नवंबर को बाजार से नमक खत्म होने की भी झूठी खबर चल पड़ी थी। शहर से लेकर देहात तक के बाजारों में नमक खरीदने को लेकर लोग टूट पड़े थे।

10- 2000 के नकली नोट भी मार्केट में आने की गलत खबर फैली थी। लेकिन, बाद में पता चला था कि किसी ने दो हजार के नए नोट को फोटोकॉपी कराया गया है।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: