Headline • महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड• कर्नाटक संकट का असर राज्यसभा में• अहमदाबाद की अदालत  में राहुल गांधी• व्हाइट हाउस में भरा बारिश का पानी • क्या अनुपमा परमेसरन को डेट कर रहे जसप्रीत बुमराह• पाकिस्तान को आंख दिखाता नाग• यूएई और भारत के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर होगी बात• कर्नाटक में सियासी संकट• सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है: राहुल गांधी

पीएम मोदी 7 जुलाई से चार अफ्रीकी देशों की यात्रा पर निकलेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 7 जुलाई से चार अफ्रीकी देशों की यात्रा पर जाएंगे। जिसमें वह दक्षिण अफ्रीका, मोजांबिक, तंजानिया और केन्या जाएंगे।

पीएम मोदी की इस यात्रा का मकसद संसाधनों की प्रचुरता वाले अफ्रीकी महादेश के साथ भारत के संबंधों को और अधिक घनिष्ठ बनाना है जहां चीन लगातार अपना प्रभाव बढ़ा रहा है।

बता दें कि, अभी हाल ही में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी अफ्रीकी देशों की यात्रा थी। इनके बाद अब प्रधानमंत्री मोदी अफ्रीकी देशों के साथ भारत के रिश्तों को अधिक मजबूत बनाने की कोशिश करेंगे।

पीएम मोदी की यात्रा का पहला पड़ाव मोजांबिक होगा, जहां वह 7 जुलाई को राष्ट्रपति नाइयूसी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे।

मोजांबिक के बाद मोदी 8 और 9 जुलाई को दक्षिण अफ्रीका पहुंचेंगे जहां वह राष्ट्रपति जैकब जुमा और एवं अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ चर्चा करेंगे। इसके बाद वह 10 जुलाई को तंजानिया के राष्ट्रपति जान प्रोम्बे जोसेफ मंगुफुली के साथ मुलाकात करेंगे। इस दौरान दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग बढ़ाने और साझा हितों से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

पीएम मोदी अपनी यात्रा के अंतिम पड़ाव में केन्या जाएंगे और वहां के राष्ट्रपति केन्यात्ता के साथ द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा करेंगे। इस बीच पीएम मोदी नैरोबी में यूनिवर्सिटी आफ नैरोबी में छात्रों को संबोधित करेंगे।

भारत का कारोबार अभी अफ्रीका देशों के साथ 75 अरब डाॅलर है और भारत ने पिछले चार सालों में वहां विकास एवं क्षमता निर्माण परियोजना को आगे बढ़ाने के लिए 7.4 अरब डालर का अनुदान दिया । भारत ने इस अवधि में 41 अफ्रीकी देशों में करीब 140 परियोजनाओं को लागू किया।

संबंधित समाचार

:
:
: