Headline • इलाहाबाद में बीजेपी जिलाध्यक्ष ने अपने नाते रिश्तेदारों को बांट दिए सारे पद, युवाओं में भारी गुस्सा• भ्रष्टाचार की भेंट चढा बलरामपुर का विकास, लोगों ने शिकायत की तो बीजेपी विधायक बोले, गुंडे हैं ये लोग• सोशल मीडिया में आग लगा रही ही एक और भोजपुरी डांसर, डांस के लटके-झटके सपना चौधरी जैसे• आजमगढ़ में फिर मुठभेड़, बदमाश के साथ पुलिस अधिकारी को भी लगी गोली • प्रिंसिपल या जल्लाद! बच्चे को तबतक मारते रहे जब तक डंडा टूट न गया, क्लास में हंसने पर दी सजा• दामाद की हत्या के लिए 1 करोड़ की सुपारी दी, गैंग की लिंक आईएसआई से भी पाई गई• मृत महिला को जिंदा दिखाकर कर लिया मकान का बैनामा, असली मालिक पर घर छोड़ने की धमकी• महिलाओं ने सरेराह प्रधान में चप्पलों और लाठियों से की पिटाई, पति पत्नी के झगड़े को सुलझाना पड़ा भारी• भारत-पाक मुकाबले का रोमांच चरम पर, कानपुर में फैंस ने बप्पा से की टीम इंडिया की जीत की प्रार्थना• पाकिस्तान ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय, क्या कमाल कर पाएगी रोहित एंड कंपनी?• जब कुर्ता पजामा पहनकर नानी के घर गणपति पूजा में पहुंचे तैमूर,फोटो और वीडियो वायरल• क्यों हो रही है यूपी के इस दरोगा की प्रशंसा, जान की बाजी लगाकर किया कमाल• 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तान' से सामने आया फातिमा सना शेख का दमदार लुक,आमिर खान ने दी चेतावनी • रामकथा पर झूमे शिवपाल, कहा-समय बताएगा कौन किसके साथ है• साथ में बीड़ी पी रहे दोस्त की जेब में पैसा देखा तो लालच आ गया, ईंट मारकर हत्या कर पैसे ले लिए• शिकायत करने पर नहीं सुनी लेकिन जब आत्मदाह करने पहुंचा गरीब आदमी तो तुरंत जांच बैठा दी• चंद्रशेखर रावण और मदनी में गोपनीय बातचीत, शेरसिंह राणा ने भी पेश कर दी चुनौती• राजा भैया के पिता और प्रशासन में ठनी ! मोहर्रम के दिन भंडारे के कार्यक्रम में प्रशासन ने लगाई रोक• तीन तलाक पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला,अध्यादेश को दी मंजूरी• शामली : मठुभेड़ में दो बदमाश गिरफ्तार, एक को लगी गोली, 10 लाख कैश बरामद • दरोगा के बेटे ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या, मां की बीमारी के चलते डिप्रेशन में था• बीजेपी विधायक देवेंद्र राजपूत की दबंगई, बिजली विभाग के जेई को पीटा,वीडियो वायरल• बहराइच में बुखार का कहर, 45 दिनों में 70 बच्चों की मौत• 'समाचार प्लस' की खबर का असर,विकिपीडिया ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का निक नेम 'झांपू' हटाया• ब्लॉक प्रमुख से फोन पर मांगी गई 5 करोड़ की रंगदारी, न देने पर जान से मारने की धमकी


इलाहाबाद: 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर सभी राजनैतिक पार्टिया जोर शोर से तैयारियां कर रही हैं तो वही संगम नगरी इलाहाबाद के यमुना पार इलाके के बीजेपी जिला अध्य्क्ष शिवदत्त पटेल पर पार्टी के युवा नेता आशीष मिश्रा ने गंभीर आरोप लगाए है। उनका कहना है कि जहा देश के प्रधानमंत्री युवाओं को आगे लाने की बात कर रहे हैं तो वहीं पार्टी के कुछ नेता अपने करीबियों को पद दिलवाने का काम कर रहे है।

युवा नेता आशीष की नाराजगी इसलिए है कि कुछ दिन पहले ही यमुना पार इलाके में युवामोर्चा का गठन किया गया है पर पार्टी के हाईकमान को जो लिस्ट भेजी गई उसमे युवा नेताओं को छोड़ कर एक ऐसे नेता का नाम भेज दिया गया इसकी उम्र को लेकर युवा नेताओं में नाराजगी है। 

वहीं युवा नेता आशीष का कहेना है जिला अध्यक्ष भाजपा और महामंत्री प्रहलाद तिवारी बिजनेस पार्टनर है और महामंत्री प्रहलाद तिवारी के सगे मामा वीरेंद्र शुक्ला है जिनको युवामोर्चा का जिलाध्यक्ष बना दिया गया जिसको लेकर युमना पार के सभी भाजपा युवा नेता नाराज है। 

 युवा मोर्चा का जिला अध्यक्ष बनाए जाने से नाराज यमुनापार युवा नेताओं का कहना है कि पार्टी के लिए युवा नेताओं ने लक कर संघर्ष किया है लेकिन उसके बावजूद युवा नेताओं की अनदेखी की जा रही है।

हालांकि युवा नेता आशीष मिश्रा का कहना है कि हाई कमांड तक इस बात की जानकारी नहीं है कि यमुना पार इलाके में भाजपा के जिला अध्यक्ष अपने करीबियों को पदों पर सुशोभित कर रहे हैं।

इस तरह की कार्यशैली को लेकर बीजेपी नेताओं में नाराजगी है और 2019 में इसका गलत असर पड़ सकता है जिस तरह से और नेताओं की अनदेखी कर अपने करीबियों को पद दिया जा रहा है उससे बीजेपी के जमीनी नेता नाराज हैं। 

 

नई दिल्ली : तेलंगाना के नालगोंडा में 23 वर्षीय शख़्स की उसकी गर्भवती पत्नी के सामने बेरहमी से हत्या के मामले में चौंकाने वाला मामला सामने आया है।

पुलिस ने इस मामले में बिहार से सात लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें हत्या करने वाला भी शामिल है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गैंग को 1 करोड़ रुपये में सुपारी दी गई थी, जिसमें से 18 लाख रुपये दिये जा चुके थे। दूसरी तरफ, इस गैंग के पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से लिंक की बात भी सामने आ रही है।

कहा जा रहा है कि हत्या करने वाला शख्स गुजरात के पूर्व मंत्री हरेन पांड्या की हत्या में भी शामिल रहा है और उस मामले में दोषी भी ठहराया गया था और साल 2003 में रिहा हो गया था।

तेलंगाना में 23 वर्षीय प्रणय कुमार की उनकी पत्नी के सामने ही हत्या कर दी गई थी। सीसीटीवी फुटेज में साफ दिख रहा है कि प्रणय 21 वर्षीय पत्नी अमृता वार्षिणी के साथ एक अस्पताल से बाहर निकल रहे थे। 

इसी दौरान एक व्यक्ति पीछे से प्रणय पर कुल्हाड़ी से हमला कर देता है। वह ताबड़तोड़ वार करता है और प्रणय की मौत हो जाती है। इस घटना के बाद प्रणय की पत्नी अमृता सदमे से गिर गईं और उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

बाद में उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्हें शक है कि उनके पिता और चाचा ने ही हत्या करवाई है, क्योंकि प्रणय दूसरी जाति से थे और वे लोग शुरू से ही उसकी शादी का विरोध कर रहे थे। साथ ही अबॉर्शन के लिए भी दबाव बना रहे थे, लेकिन मैं ऐसा नहीं करना चाह रही थी।

नई दिल्ली. मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से आजादी दिलाने के लिए मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। तीन तलाक पर अध्याधेश लाने को सरकार ने मंजूरी दे दी है। तीन तलाक का बिल संसद से पारित नहीं हो पाया था, इसलिए सरकार ने अध्यादेश लाने का फैसला किया है।   बता दें कि तीन तलाक विधायक लोकसभा से पारित हो चुका है, लेकिन राज्यसभा में लंबित हैं। 

Union Cabinet today has approved an ordinance on Triple Talaq bill, making Triple Talaq a criminal act: Sources pic.twitter.com/f0F0RnlpaP — ANI (@ANI) September 19, 2018

 

-कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'मोदी सरकार इसे मुस्लिमों के लिए न्याय का मुद्दा बनाने के बजाए राजनीतिक मुद्दा बना रही है'

 

देवबंदः लोकसभा चुनाव से पहले मुस्लिम और दलितों में क्या कोई नया समीकरण बनने जा रहा है। यह सवाल इसलिए अहम है, क्यों कि जमीयत उलेमा-ए-हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी (मदनी गुट) ने भीम आर्मी संस्थापक चन्द्रशेखर रावण से बंद कमरे में की मुलाकात की है। 

दूसरी ओर कोतवाली क्षेत्र के बड़गांव के मंदिर के खुले मैदान में शेर सिंह राणा ने “राष्ट्रीय समान अधिकार पदयात्रा“ के दौरान युवाओं को सम्मिलित होने का किया आह्वान किया। 

जहां एक ओर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर रावण मौलाना अरशद मदनी से मिलने देवबंद पहुंचे और उनके साथ  बंद कमरे में 15 मिनट तक गोपनीय बातचीत की।

हालांकि इस बातचीत को शिष्टाचार मुलाकात का नाम दिया गया है लेकिन यह मुलाकात उत्तर प्रदेश की राजनीति में एक बड़ा बदलाव ला सकती है। 

राजपूत समाज द्वारा बड़ागांव में आयोजित सभा में शेर सिंह राणा ने लोगों से ’राष्ट्रीय सम्मान अधिकार पदयात्रा ’ के बकायदा फार्म भर पद यात्रा में सम्मिलित होने का किया आह्वान।

शेर सिंह राणा ने एससी-एसटी एक्ट पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट के फैसले को नजरअंदाज कर सरकार ने एससी-एसटी पर अध्यादेश लाकर जनता के साथ धोखा किया है। 

लोकसभा चुनाव न लड़ने की बात कहते हुए शेर सिंह राणा ने कहा कि योग्य उम्मीदवार को चुनाव जिताएं। राणा ने कहा सहारनपुर के शाकुम्भरी मंदिर से आगरा तक चली इस पदयात्रा में लगभग 5 लाख सदस्यों के सम्मिलित होने का अनुमान था, जबकि मेरठ क्षेत्र के पहले ही 5 लाख सदस्यों के पदयात्रा में सम्मिलित होने का लक्ष्य पूरा हो गया। अब 5 से 15 और 15 से 20 लाख सदस्य इस पद यात्रा में सम्मिलित हो जाएंगे।

   राणा ने कहा कि हमारे छात्रों को 80 से 90 प्रतिशत नंबर लाने के बाद भी अच्छे कॉलेज में एडमिशन का नहीं मिलता है। यह आपके और हमारे दिल की पीड़ा है। 

 

कासगंज.  यूपी के कासगंज जिले में भाजपा विधायक देवेंद्र राजपूत दबंगई देखने को मिली है। यहां बीजेपी विधायक ने बिजली विभाग के जेई को जमकर पीटा और सरकारी दस्तावेज भी फाड़ दिए। जिसको लेकर जेई ने विधायक देवेंद्र राजपूत और उनके गुर्गे वीरेंद्र के खिलाफ आईपीसी की कई गंभीर धाराओं में कोतवाली कासगंज मुकदमा दर्ज कराया है। 

-जानकारी के मुताबिक, विधुत विभाग के जेई डिप्टी सिंह मीणा कासगंज जनपद के नदरई फीडर पर तैनात है। 

-आरोप है कि विधायक देवेंद्र राजपूत अपने परिचित व्यक्ति जमुना प्रसाद के निजी ट्यूबेल के समायोजन ओर गलत तरीके से लाइन शिप्टिंग कराने का दबाब बना रहे थे।

-जब जेई ने गलत काम नहीं किया तो मंगलवार की दोपहर को सदर विधायक और उनके गुर्गे वीरेंद्र ने नदरई कार्यालय पहुंचकर  डिप्टी सिंह मीणा को जमकर पीटा और गाली गलौज की। 

-आरोप है विधायक ने सरकारी काम मे बांधा डालते हुए सरकारी दस्तावेज फाड़ दिए और विधायक ने जेई से कहा कि अपना ट्रांसफर कही और करालो वरना अच्छा नहीं होगा।

-वहीं जेई की तहरीर पर फिलहाल पुलिस ने विधायक और वीरेंद्र नाम के व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

-वही आगामी त्योहारों की समीक्षा करने कासगंज पहुंचे अलीगढ रेंज के डीआईजी प्रतिवेन्द्रर सिंह से जब मामले के बारे में बात की तो डीआईजी ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में अब आया है में एसपी कासगंज से पता कर रहा हु अगर मामला सही है तो कार्यवाही जरूर होगी।   

-बता दें कि सदर विधायक देवेन्द्र राजपूत पहले भी गाली गलौच के मामले में सुर्खियों में रहे है। 

 

 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: