Headline • न्‍यासा देवगन फिल्‍म इंडस्‍ट्री में अपना लक आजमायेंगी ? अजय देवगन ने की खुलकर बात• चीन को 28 साल में सबसे बड़ा झटका, अर्थव्यवस्था न्यूनतम स्तर पर पहुंची• यूपी 69 हजार शिक्षक भर्ती पर 28 जनवरी तक रोक• कर्नाटक: सिद्धगंगा मठ के मठाधीश शिवकुमार स्वामी का 111 साल की उम्र में निधन• Amazon ग्रेट इंडियन सेल: तीन दिनों की शानदार डील• मेक्सिको ईंधन पाइपलाइन ब्लास्ट में मरने वालों का आंकड़ा रविवार को बढ़कर 85 हो गया।• विपक्ष का गठबंधन नकारात्मकता और भ्रष्टाचार का है :पीएम मोदी• धोनी ने आलोचकों को दिया बल्ले से जमकर जवाब • रूसी विमान युद्धाभ्यास के दौरान जापान सागर पर आपस में टकराए • कंगना करणी सेना से नाराज बोली मैं भी राजपूत हूं बर्बाद कर दुंगी तुम्‍हें• मिशन 2019: चुनाव आयोग मार्च में कर सकता है। लोकसभा चुनाव का एलान • ममता की महारैली में विपक्ष का जमावड़ा, पहुंचे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा• मेघालय, कोयला खदान से 35 दिनों के बाद 200 फीट की गहराई से निकला मजदूर का शव • भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को स्वाइन फ्लू, एम्स में चल रहा इलाज • रुपये में मजबूती शेयर बाजार 36 हजार के पार• World Bank के प्रमुख पद की दावेदार में इंद्रा नूई का नाम आगे • कर्नाटक में राजनीतिक उठा-पटक, कांग्रेस ने 18 को बुलाई विधायकों की बैठक• विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष राम जन्मभूमि मार्गदर्शक मंडल के सदस्य विष्णु हरि डालमिया का निधन• भदोही में एक निजी स्कूल वैन में लगी आग, 19 बच्चे झुलसे• मथुरा के यमुना एक्सप्रेस वे पर, रफ्तार का कहर 3 की मौत• जहरीली शराब कांड का इनामी बदमाश कानपुर पुलिस की गिरफ्त में• गाजियाबाद में स्वाइन फ्लू की दस्तक, स्वास्थ्य विभाग अलर्ट• प्रयागराज में हर्ष फायरिंग दौरान, एक को लगी गोली• पेट्रोल-डीजल के दामों ने फिर दिया झटका, क्या रहे आपके शहर के दाम• RRB ग्रुप डी आंसर की जारी 14 से 19 जनवरी तक दर्ज कराएं अपनी आपत्ति


चित्रकूट. बीहड़ के जंगलों को डकैतों के आतंक से मुक्त करने की पुलिस के अभियान को आज बड़ी कामयाबी मिली है। मध्य प्रदेश पुलिस ने उत्तर प्रदेश पुलिस की मदद से पचास हजार के इनामी डकैत ललित पटेल को मुठभेड़ में मार गिराया। यहां के नयागांव थाना क्षेत्र के पुखरवार के पहाडों में हुई मुठभेड़ में ललित पटेल मारा गया। पुलिस को उसके पास से कई हथियार मिले। हालांकि उसके तीन साथ भागने में कामयाब रहे। मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चैहान ने ललित पटेल के मारे जाने की घोषणा की। ललित पटेल के साथ ही चित्रकूट में आतंक का भी खात्मा हो गया है।
आतंक का पर्याय था ललित पटेल
-बीहड़ के जंगलों के साथ आसपास के जिलों में ललित पटेल का आतंक चलता था। मांगे पूरी नहीं होने पर ललित पटेल लोगों को जिंदा जला दिया करता था। चित्रकूट में उसने ऐसे भीभत्स कांड को अंजाम दिया था।
- डकैत ललित ऊपर म.प्र. में एक लाख तीस हजार और उ.प्र. में दस हजार इनाम घोषित था।
- एक माह पूर्व मुखबरी के शक में थरपहाड़ से तीन युवकों को कोल्हुआ के जंगल ले जाकर ललित पटेल ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसके बाद और शव को जला दिया था।
-मुढिया देव स्कूल से हेडमास्टर यशोदा कोल का अपहरण किया था। फरौती लेने के बाद उसे उसे रिहा किया। इसके अलावा भी कई संगीन वारदातों को अंजाम दिया था।
-ललित पटेल चुनावों के दौरान प्रत्याशियों से मोटी रकम वसूलता था। चित्रकूट में होने वाले विधानसभा के उपचुनाव का ठेका लेने के फिराक में था।
एमपी के सीएम ने दिए थे खात्मे का निर्देश


- विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर एक हफ्ते पहले चित्रकूट आये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने एक जनसभा में डकैतों के सफाए का ऐलान किया था। शिवराज ने कहा था कि यहां डकैत रहेंगे या फिर शिवराज सिंह। इसके बाद से ही डकैतों के सफाए का अभियान चला।
कैसे घिरा डकैत ललित पटेल
-पुलिस को मुखबिरों से सूचना मिली थी कि इनामी डकैत ललित पटेल पोखरवार के जंगल छिपा हुआ है। एम पी और यूपी पुलिस ने ज्वाइंट आॅपरेशन चलाया।
-पोखरवार का पूरा इलाका पहाड़ों से घिरा हुआ है। नीचे के हिस्से पर यूपी पुलिस और एसटीएफ के जवान घेर रखे थे। एमपी पुलिस और एस
टीएफ के जवानों ने पहाड़ों के उपर पहुंचकर डकैत ललित को घेर लिया।
- आपरेशन का नेतृत्व एसपी राजेश हिंगणकर ने किया। करीब 50 जवानों ने करीब एक घंटे के आपरेशन में डकैत को मार गिराया। डकैतों की ओर से भी गोली चलाई गई।
- सरगना के मारे जाने के बाद गिरोह के अन्य सदस्य अंधेरे का फायदा उठाकर फरार होने में कामयाब हो गये, पुलिस पार्टी जंगलों में सर्चिंग कर फरार डकैतों की तलाश में जुटी है।

संबंधित समाचार

:
:
: