Headline • गाजियाबाद की वसुंधरा कॉलोनी में नहीं रुक रही हैं चोरी की घटनाएं, लॉकर तोड़कर नगदी और लैपटॉप ले उडे़• स्वामी अग्निवेश ने दी आरएसएस प्रमुख को मॉब लिंचिंग पर खुली बहस की चुनौती• SC-ST एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 12 छात्रों के खिलाफ बीजेपी सांसद ने दर्ज कराई रिपोर्ट• लव, सेक्स एंड धोखा! दूसरे धर्म के युवक ने खुद को मराठी बताकर की शादी, न्याय के लड़की मुंबई से पहुंची मुरादाबाद• महिला के नहाते समय फोटो खींचने पर बवाल, दो पक्षों के बीच जमकर चले लाठी-डंडे, कई घायल• रानीखेत में भारत और अमेरिकी सैनिकों ने किया आतंकवादियों के खात्मे का संयुक्त अभ्यास• मायावती ने की घोषणा, छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी बसपा• मैच के बाद पाक कप्तान ने कहा, हम भुवनेश्वर की गेंदों को समझ नहीं पाए• 13 वर्षीय लड़की की जघन्य हत्या के बाद बनारस के एक इलाके में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त रोष• बिग बॉसः जसलिन ने सिंगल बेड लिया तो बगल वाला बेड लेने पहुंच गए अनूप जलोटा• प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार• 'सड़क-2' का ट्रेलर रिलीज,फिर एक साथ दिखेंगे संजय दत्त और पूजा भट्ट• मौसा ने बनाया नाबालिग को अपनी हवस का शिकार, मौसी से मिलने आई थीं लड़की• पाकिस्तान पर भारत की शानदार जीत के बाद जश्न का माहौल, भुवी के घर पर जमकर हुआ नृत्य• कफन का तिरंगा ओढ़कर न्याय के लिए कलक्ट्रेट में धरने पर बैठीं शहीद की विधवा  • पुलिस ने निर्दोष युवक को किया गिरफ्तार,फिर जेल भेजने के लिए खुद तैयार की जहरीली शराब,वीडियो वायरल !• अलीगढ़ : पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराए 25-25 हजार के इनामी बदमाश,थानाध्यक्ष घायल

इस IAS के नाम से ही खौफ खाते हैं डिपॉर्टमेंट के 'बाबू', सरकार बदलने के बाद कर रहे ट्रांसफर का इंतजार 

सीतापुर. सीतापुर के कुछ सरकारी दफ्तरों में जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी चर्चा का विषय बने हुए है। सीतापुर के DM  ने पिछले दो सालों में कई विभागों में भ्रष्टाचार करने वालों पर नकेल कसे थे। जिसके बाद से यहां के सरकारी तंत्र का रंग-ढंग ही बदल गया। शायद ही कोई ऐसा विभाग होगा जिसकी जांच अमृत त्रिपाठी ने नहीं करवाई हो। वहीं सरकारी विभागों के बाबुओं और अधिकारियों को सरकार बदलने के बाद इनके जानें का इंतजार है।   

पिछले 2 वर्षों में कई दर्जन कर्मचारी कराए तबादला 

-इस IAS ऑफिसर ने सीतापुर आते ही सरकारी विभागों का रंग-रुप ही बदल डाला। 

-इनके आने से पहले यहां के सरकारी विभागों में बिना पैरवी और पैसा का कई काम ही नहीं होता था। 

-वहीं अमृत त्रिपाठी के सीतापुर आते ही सरकारी दफ्तरों के कर्मचारियों के रंग-ढंग ही बदल गए। 

-सरकारी विभागों में वर्षों से एक ही कुर्सी पर बैठे करोड़पति बाबुओं को डीएम का यह मिजाज कभी नहीं भाया। 

-जिसकी वजह से चर्चा है कि कई दर्जन कर्मचारी जिला छोड़कर अपना तबादला कराके चलते बने। 

कोई ऐसी योजना नहीं होगी जिसकी जांच नहीं हुई 

-अमृत त्रिपाठी ने राज्य सरकार और केंद्र सरकार के द्वारा चलाए जा रहे सभी योजनाओं की दो सालों में जांच करवा दी। 

-चाहे वे मनरेगा क्षेत्र पंचायत में फैले अरबों रुपयों के भ्रष्टाचार का मामला हो या फिर 14वें व चतुर्थ राज्य वित्त का।

-या फिर जननी सुरक्षा योजना के करोंड़ों के बजट का या फिर किसानों को समय से पानी, खाद्य, यूरिया न मिलने का।

-या फिर आरईएस विभाग से पास हुए फर्जी स्टीमेटों का। 

सीतापुर के लोगों के चहेते है डीएम साहब 

-2008 बैच के IAS ऑफिसर अमृत त्रिपाठी द्वारा विगत 2 वर्षों में काफी ऐसे कार्यों को अंजाम दिए।

-जिसकी वजह से सीतापुर जिले की जनता ने उनके कार्यों की काफी सराहना भी की है।

-विधानसभा चुनाव में प्रदेश में सीतापुर मतदान प्रतिशत में नंबर एक पर था। 

-पौराणिक तीर्थ नैमिषारण्य को जमीनी स्तर पर विकास करने और उसकी शोभा बढ़ने। नैमिष में विश्व प्रसिद्द चक्र तीर्थ में रोजाना शाम आरती कराने विगत 2 वर्षों में ऐसे कई ऐतिहासिक कार्य डीएम अमृत त्रिपाठी द्वारा किये गए जिससे सीतापुर समेत पड़ोसी जिलों की जनता ने उनके कार्यों को सराहा।

DM की कार्रवाई BJP वालों को भी रास नहीं आ रही है   

-प्रदेश में नई सरकार आने के बाद भी डीएम सीतापुर का अवैध टैम्पो स्टैंडों का बंद करवाना।

-और ओवर लोडिंग गाड़ियों का चालान कटवाना भाजपाइयों को भी रास नहीं आ रहा है। 

-क्योंकि प्रदेश में सरकार बदलने के बाद जिले के सभी अवैध ठेकों का और ठेकेदारों का चेहरा बदल गया है।

-जिसकी वजह से ठेकेदारों ने अपने-अपने राजनैतिक आकाओं के दरबार में डीएम को हटवाने की पेशकश कर दी है।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: